Kannauj News: सुहागरात में मिलन से पहले ही उजड़ गया सुहाग, पिता बोले- बेटा तूने ये क्या किया

Must Read

Kannauj News: यूपी के कन्नौज जिले के तालग्राम से एक बेहद ही चौकाने वाला मामला सामने आया है। दरअसल यहां सुहागरात के लिए सजाए गए कमरे में ही दूल्हे ने दुल्हन की चुनरी से फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। इस घटना के बाद शादी के घर में खुशियों की जगह मातम छा गया। शव को कब्जे में लेकर पुलिस आत्महत्या की वजह तलाशने में लग गई है। तालग्राम थाना के मछरैया ग्राम निवासी रामविलास यादव खेती का काम करते हैं। उनके छोटे बेटे मनोज यादव (23) की शादी गुरसहायगंज कोतवाली क्षेत्र के देवीपुर्वा निवासी लालू यादव की पुत्री गोल्डी (22) से तय हुई थी। बैंडबाजों के साथ 26 मई को बरात देवीपुर्वा पहुंची गई थी। 

शादी की रस्मों के बाद बरात 27 मई को दूल्हा-दुल्हन के साथ वापस घर लौट आई थी। 28 मई को मंडल उखाड़ने और कंगन खोलने की रस्म अदायगी की गई। इसके बाद सुहागरात के लिए कमरे को फुल मालाओं से सजाया गया था। रात में करिब 10 बजे दुल्हन को उसकी दो ननदों ने कमरे में पहुंचाया। कुछ देर बाद दुल्हन बाथरूम में चली गई। इस बीच दूल्हे ने दरवाजे को बंद कर दिया और पंखा के सहारे दुल्हन की चुनरी से फंदा डालकर लटक गया। जैसे ही दुल्हन शौचं से लौटी, तो कमरे का दरवाजा अंदर से बंद मिला।

ये भी पढे़:- Q4 में 30% की वृद्धि के बावजूद 2% बढ़ी IRCTC के शेयरों की कीमत, बोर्ड ने 2 रुपये प्रति शेयर के लाभांश की घोषणा…

खटखटाने पर नहीं खुला, तो खिड़की से अपने पति को लटकता और तड़पता देखा, तो शोर मचाने लगी। दुल्‍हन के शोर मचाने की आवज सुनकर परिजन पहुंचे और गेट तोड़कर फंदे से लटक रहे मनोज यादव (23) को उतारा और सौ शैय्या अस्पताल छिबरामऊ लेकर गए। वहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं थाना प्रभारी देवेश पाल ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिए भेज दिया गया है। आत्महत्या की वजह तलाशने का प्रयास किया जा रहा है। अभी किसी पक्ष से कोई तहरीर नहीं मिली है।

वहीं दुल्हन के पिता लालू यादव ने बताया, उसकी चार बेटियां हैं। बड़ी बेटी की पहले शादी कर चुके हैं। दूसरे नंबर की बेटी गोल्डी की शादी 27 मई को धूमधाम से की थी। मंगलवार को चौथी की तैयारी कर रहे थे। इससे पहले रविवार रात बेटी का सुहाग उजड़ने की खबर मिली। बेटी से मिलने उसके ससुराल पहुंचे, माता-पिता उसका दर्द देख बेहाल हो गए। बेटी को अपने साथ घर ले जाने का प्रयास किया,

पर रिश्तेदारों के समझाने पर बेटी को ससुराल छोड़ मायूस लौट गए। दुल्हन के पिता का कहना है कि अगर बेटी का देवर होता तो उसी से शादी कर देते, लेकिन अब बेटी के भविष्य की चिंता सता रही है। एक-एक पैसा जोड़ कर शादी की थी। वहीं बहू का सुहाग तो उड़ गया सास-ससुर ने भी अपना बेटा खो दिया। अपने बेटे के गम में मां लाडलो देवी और पिता रामविलास भी पिता भी बदहवास हैं।

अपने बेटा को खोने के गम में कुछ बताने की हालत में नहीं है। आंखों में आंसू लिए बाप बार-बार यही कह कर चुप हो जाते हैं कि बेटा तूने यह क्या किया। तू तो चला गया और हमें जिंदा ही मार दिया। बेसुध माता-पिता को लोग पानी का छींटा मार सांत्वाना देते दिखे। यह मंजर देख सभी की आंखें नम होती रहीं। गांव में भी इस घटना से चारों तरह मातम पसरा है।

ये भी पढे़:- प्रतापगढ़ जेल में अतीक-अशरफ के शूटरों से फिर SIT करेगी पूछताछ, अब खुलेंगे राज!

Latest News

वीकेंड ट्रैवल के लिए बेस्ट हैं ये डेस्टिनेशंस, खूबसूरत नजारों के साथ शांति और सुकून की होगी अनुभूति

Weekend Travel: वीकेंड की छुटि्टयों में कहीं घूमने जाने की सोच रहे है तो दिल्‍ली के पास या दिल्‍ली में...

More Articles Like This