Indian Economy को लेकर Bloomberg का दावा, वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में बनी रहेगी विकास की गाति

Must Read

भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) को लेकर ब्लूमबर्ग की तरफ से जारी की गई एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में देश की अर्थव्यवस्था अपनी विकास की गति को बनाए रखेगी. 26 अर्थशास्त्रियों की तरफ से किए गए सर्वेक्षण में में ये अनुमान लगाया गया है कि जनवरी से लेकर मार्च 2023 में अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर 5.1 फीसदी रहने की संभावना है, जो पिछली तिमाही में 4.4 फीसदी थी. साथ ही पूरे वित्त वर्ष के लिए जीडीपी की दर 7 प्रतिशत रहने की उम्मीद है. वहीं RBI के गर्वनर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) ने पिछले सप्ताह कहा था कि 2022-23 में वृद्धि 7 प्रतिशत के आधिकारिक अनुमान से ज्यादा हो सकती है.

RBI की तरफ से जारी एक रिपोर्ट में ये भी कहा गया है कि भारत की अर्थव्यवस्था सात फीसदी के आंकड़े को पार सकती है. जो 7.1 फीसदी पर रहेगी. यह एनएसओ द्वारा जारी किए गए पहले से अनुमानों के आधार पर आंकड़े हैं. जिसमें आर्थिक वृद्धि दर सात फीसदी रहने की संभावना जाहिर की गई थी. बता दें कि RBI के गर्वनर शक्तिकांत दास ने पिछले सप्ताह सीआईआई की हुई बैठक के दौरान ये कहा था कि तीसरी और चौथी तिमाही में वृद्धि दर 7 फीसदी से आगे बढ़ेगी. शुरू में यह तीसरी तिमाही में दिखाई दिया कि एक दबी हुई मांग थी जो आर्थिक गतिविधियों का समर्थन कर रही थी. लेकिन पिछले वित्तीय वर्ष की चौथी तिमाही के संकेत बताते हैं कि आर्थिक गतिविधि में गति बनी हुई है. एक दबी हुई मांग थी जो आर्थिक गतिविधि का समर्थन कर रही थी. लेकिन पिछले वित्तीय वर्ष की चौथी तिमाही में सभी आर्थिक संकेतक बताते हैं कि आर्थिक गतिविधियों में गति बनी हुई है.

Latest News

Health News: शरीर में फाइबर की नहीं होगी कभी कमी, बस दूध में भिगोकर खाएं ये ड्राई फ्रूट

Health News: आज के परिवेश में सबसे कठिन काम शरीर को रोग मुक्त रख पाना है. आज की भागदौड़...

More Articles Like This