Conversion Racket: ऑनलाइन धर्मांतरण के आरोपी बद्दो पर लगेगा NSA! पाकिस्तानी मेल…

Must Read

Online Gaming: ऑनलाइन धर्मांतरण के सरगना शाहनवाज़ उर्फ बद्दो पर जल्द ही राष्ट्रीय सुरक्षा कानून यानी एनएसए (NSA) लगाया जा सकता है. गाजियाबाद पुलिस को उसके खिलाफ कई अहम सबूत मिले हैं. बता दें कि, बद्दो पर ऑनलाइन गेमिंग के जरिए धर्मांतरण कराने के आरोप लगे हुए हैं. वह गेमिंग के जरिए लोगों का धर्म परिवर्तन कराने के मामले में यह मुख्य आरोपी है. गाजियाबाद पुलिस उसे महाराष्ट्र से लेकर आ चुकी है. गाजियाबाद सिटी के डीसीपी ने बताया की बद्दो का पाकिस्तान से भी कनेक्शन सामने आया है. उसकी कॉल डीटेल की जांच के बाद ये तमाम जानकारियां सामने आई हैं.
पुलिस ने उससे काफी देर तक पूछताछ की. सूत्रों की माने तो, जांच एजेंसियां भी छानबीन कर रही हैं. गाजियाबाद पुलिस ने और भी कई सवाल तैयार कर रखे हैं, जिनके जवाब शाहनवाज से लिए जाएंगे.

किन सवालों के जवाब लेगी पुलिस ?
पुलिस को बद्दो से उन सवालों के लेने है कि वो कैसे गेमिंग के जरिए बच्चों का ब्रेनवाश करता था. इसके अलावा बद्दो के साथ जुड़े लोगों का कनेक्शन, पाकिस्तानी ईमेल आईडी का कनेक्शन, साथ ही उसके अलग-अलग बैंक अकाउंट में किए गए ट्रांजेक्शन आदि चीजों पर जांच होगी. इसके साथ-साथ पुलिस शाहनवाज उर्फ बद्दो और मौलवी को भी आमने-सामने बिठाकर पूछताछ कर सकती है. महाराष्ट्र पुलिस के हाथ एक हार्ड ड्राइव लगी थी, जिसमें बहुत सारे महत्वपूर्ण डाटा हो सकते हैं, जिनकी तह तक जाना इस मामले में बेहद जरूरी है.

वैसे तो इस मामले को लेकर पुलिस और जांच एजेंसियां पहले से ही काफी सतर्क हो चुकी है, लेकिन फिर भी कई ऐसे एंगल हैं, जिनकी तलाश की जा रही है. बड़ी बात ये है कि जिस तरीके से एक तरफ गाजियाबाद में यह धर्मातरण का मामला सामने आया है, वहीं पड़ोस में दिल्ली में भी धर्मातरण का एक मामला सामने आया है, जिसको देखते हुए यह भी माना जा रहा है कि कहीं ना कहीं इसका कनेक्शन स्लीपर सेल से भी जुड़ा हो सकता है, जो काफी दिनों से एक्टिव नहीं था.

इस मामले में देश की बड़ी-बड़ी जांच एजेंसियों के शामिल होने के बाद यह भी तय है कि इस धर्मातरण रैकेट का मसला विदेश से जुड़ा हुआ है और इसके पीछे कई बड़े लोगों का हाथ हो सकता है, इसीलिए अलग-अलग एजेंसियां अलग-अलग तरीके से छानबीन कर रही हैं.

Latest News

डॉ. राजेश्वर सिंह ने NCERT की पुस्‍तकों में हुए संशोधन की सराहना, कहा- ये परिवर्तन छात्रों को सूचना के दृष्टिकोण से बनाएंगे सशक्त

Dr Rajeshwar Singh: डॉ. राजेश्वर सिंह ने राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद द्वारा 12वीं कक्षा तक की पुस्तकों में किए गए...

More Articles Like This