Gorakhpur: आर्थिक मदद के लिए जनता दर्शन में पहुंची बिहार की महिला, सीएम योगी ने दिया मदद का भरोसा

Must Read

Gorakhpur: गोरखपुर में जनता दर्शन के दौरान सोमवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने करीब 300 लोगों की समस्या सुनी। इस दौरान वहां मौजूद लोगों की निगाहे उस वक्त एक महिला पर टिक गई, जब उसने खुद को बिहार का बताया और सीएम से आर्थिक मदद की गुहार लगाई। महिला ने बताया कि वह बिहार से गोरखपुर जनता दर्शन में पहुंची है और उसे इलाज के लिए आर्थिक सहायता चाहिए। इस पर सीएम ने बड़े ही आराम से उस महिला की समस्या सुनीं।

मुख्यमंत्री ने महिला से पूछा कि क्या बिहार में उनका आयुष्मान कार्ड नहीं बना है? इस पर महिला ने कहा नहीं। इस पर सीएम ने सम्बंधित अधिकारियों से इस मामले में नियमानुसार कार्रवाई कर महिला की मदद करने के लिए निर्देश दिए।

मालूम हो कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर प्रवास के दौरान लगातार तीसरे दिन जनता दर्शन में लोगों की समस्याएं सुनीं और उन्हें समाधान के प्रति आश्वस्त किया। सीएम का यह प्रवास धार्मिक कार्यक्रमों से जुड़ा था, लेकिन उन्होंने प्रतिदिन पहले जनता का ध्यान रखा फिर देव अनुष्ठान किया। गोरखनाथ मंदिर में नवीन देव विग्रहों की प्राण प्रतिष्ठा के अनुष्ठान में सम्मिलित होने के लिए मुख्यमंत्री शुक्रवार की दोपहर बाद गोरखपुर पहुंचे थे। इसके बाद शुक्रवार की शाम और शनिवार-रविवार दोनों पहर वह मंदिर परिसर के कार्यकमों से जुड़े रहे।

इसके अलावा सोमवार को पूर्वाह्न वह महराजगंज के चौक बाजार में स्थित गुरु गोरखनाथ मंदिर में भी धार्मिक अनुष्ठान में शामिल होने के लिए पहुंचे। इस बीच गोरखनाथ मंदिर प्रवास के दौरान तीन दिन (शनिवार, रविवार और सोमवार) को लगातार उन्होंने अनुष्ठान से जुड़ने से पूर्व जनता दर्शन का आयोजन किया, बड़ी संख्या में लोगों की समस्या सुनकर उसके निस्तारण के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया। सोमवार को भी जनता दर्शन में उन्होंने करीब तीन सौ लोगों से मुलाकात की और उनकी समस्याएं सुनीं।

मालूम हो कि सोमवार को मुख्यमंत्री से मुलाकात करने वालों में इलाज के लिए आर्थिक सहायता की गुहार लगाने वालों की संख्या अधिक रही। मुख्यमंत्री ने सभी को मदद का भरोसा दिलाया और चिंता न करने की बात कही।

Latest News

डॉ. राजेश्वर सिंह ने NCERT की पुस्‍तकों में हुए संशोधन की सराहना, कहा- ये परिवर्तन छात्रों को सूचना के दृष्टिकोण से बनाएंगे सशक्त

Dr Rajeshwar Singh: डॉ. राजेश्वर सिंह ने राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद द्वारा 12वीं कक्षा तक की पुस्तकों में किए गए...

More Articles Like This