Lucknow: गन्ना किसानों को सीएम योगी ने किया सम्मानित, कहा- दुनियाभर में अपनी मिठास पहुंचा रहा यूपी

Must Read

लखनऊः शनिवार को लोक भवन में प्रदेश के उन्नतिशील गन्ना किसानों के सम्मान समारोह और नवनिर्मित भवनों के लोकार्पण के अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि दुनियाभर में यूपी अपनी मिठास पहुंचा रहा है। छह साल पहले पर्ची चोरी, घटतौली और आंदोलन का दौर था। किसान अपनी फसल को आग लगाने को विवश था। पीएम मोदी ने किसानों के लिए कई रिफार्म लागू किए। इससे बड़ा बदलाव आया। आज यूपी गन्ना एवं चीनी उत्पादन, खांडसारी और इथनाल उत्पादन में पहले स्थान पर है। अब जरूरत प्राकृतिक खेती की है। पंजाब में बढ़ते कैंसर की बड़ी वजह कीटनाशकों का प्रयोग है। प्राकृतिक खेती से धरती माता के साथ आपकी सेहत भी ठीक रहेगी।

सीएम योगी ने कहा कि हमने किसानों के साथ चीनी मिल मालिकों की समस्याओं का निराकरण किया। आज 2640 क्विंटल प्रति हेक्टेयर गन्ना उत्पादन करने वाले किसान कार्यक्रम में मौजूद है, छह वर्ष पहले अधिकारी इसे असंभव कार्य बताते थे। 3171 महिला समूहों में 59 हजार से अधिक महिलाएं काम कर प्रदेश की अर्थव्यवस्था को बढ़ाने में सहयोग कर रही हैं। गन्ना विभाग ने हर साल कुछ नया करके दिखाया है। करीब 2,13,400 करोड़ की धनराशि डीवीटी के माध्यम से सीधे किसानों के खाते में भेजी गई। करीब सौ चीनी मिलें सात से दस दिन में भुगतान कर रही हैं। किसानों के मसीहा चौधरी चरण सिंह छपरौली में चीनी मिल शुरू करना चाहते थे। कई सरकारें आई-गईं, हमारी सरकार ने मिल लगाई। इसी तरह बस्ती में गोली चलती थी, आज नई मिल चल रही है। अब मिलें बंद और बेची नहीं जा रही हैं।

बीस जिलों की रिपोर्ट खराब
चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास मंत्री लक्ष्मीनारायण चौधरी ने कहा कि कोरोना की वजह से पुरस्कार नहीं दिए गए थे, जिनको आज मिल रहे है। छह साल से योगी के नेतृत्व में गन्ना उत्पादन में पूरे देश में प्रथम स्थान है। कोरोना में भी मिलें चलती रहीं। स्वयं सहायता समूह मेहनत कर रहा। रोजगार के साधन खुद तलाश रहे है। कीटनाशक का इस्तेमाल न करें। 20 जिलों की खेती योग्य भूमि बेकार होने की रिपोर्ट है, इसलिए प्राकृतिक खेती करें। भुगतान को जल्द हर हफ्ते कराने की योजना है।

प्रशस्ति-पत्र देकर सम्मानित किया
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने 20 सहकारी गन्ना तथा चीनी मिल समितियों के नवनिर्मित भवनों का लोकार्पण किया। साथ ही, राज्य गन्ना उत्पादन प्रतियोगिताओं के विजेताओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया। इस मौके पर गन्ना राज्य मंत्री संजय सिंह गंगवार, अपर मुख्य सचिव संजय आर. भूसरेड्डी समेत कई अधिकारी उपस्थित रहे।

अपर मुख्य सचिव की प्रशंसा की
सीएम योगी ने अपर मुख्य सचिव संजय आर. भूसरेड्डी की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्होंने कोरोना काल में चीनी मिलें चलाने में अहम भूमिका निभाई। पहले लोगों ने कहा था कि ये किसी की सुनते नहीं हैं, गन्ना विभाग नहीं चला पाएंगे। मैंने कहा कि ऐसा ही अधिकारी चाहिए। जल्द सेवानिवृत्त होने वाले हैं, लेकिन इनकी सेवाएं अविस्मरणीय रहेंगी।

Latest News

भारत में कुछ सालों में दोगुनी हो जाएगी बुजुर्गों की आबादी, सामने आई बड़ी रिपोर्ट

India old age population: भारत दुनिया में सबसे नौजवान देश के तौर पर जाना जाता है. ऐसा इसलिए क्योंकि...

More Articles Like This