Sawan 2023: इस दिन शुरू होगा सावन का पावन महीना, जानिए कब रखा जाएगा पहले सोमवार का व्रत

Must Read

Sawan 2023 Start Date: हिंदू धर्म में सावन के महीने को बहुत पवित्र माना गया है. भगवान शिव की पूजा उपासना के लिहाज से भी सावन के महीने का विशेष महत्व है. ऐसी मान्यता है कि जो शिव भक्त सावन के पावन महीने में सच्चे मन से भगवान शिव की पूजा आराधना करते हैं. उन पर भगवान शिव की विशेष कृपा बरसती है और उन्हें लाइफ में किसी चीज की कमी नहीं होती है.

यह भी पढ़ें- Job Astro Tips: मनचाही नौकरी पाने के लिए करें रोटी के ये उपाय, ऑफर लेटर्स की लग जाएगी लंबी लाइन

वैसे तो सावन का महीना भी हर महीने के तरह 30 दिन का ही होता है. लेकिन इस बार अधिकमास पड़ने की वजह से सावन का महीना 59 दिन तक रहेगा. सावन के महीने में पड़ने वाले हर सोमवार का विशेष महत्व होता है. ऐसे में आइए जानते हैं. इस बार कब शुरू हो रहा है सावन का पावन महीना और कब कब है सावन को सोमवार?

कब शुरू हो रहा है सावन 2023
हिंदू पंचांग के अनुसार सावन सावन माह के कृष्ण पक्ष की प्रतिपदा तिथि की शुरुआत 03 जुलाई को 2023 को शाम 05 बजकर 08 मिनट पर होगा. हिंदू धर्म में कोई भी तिथि उदयातिथि से शुरू हो रही है. इसलिए सावन का महीना 04 जुलाई से शुरू होगा. ऐसे में सावन का पहले सोमवार का व्रत 10 जुलाई को रखा जाएगा.

सावन सोमवार 2023 तारीख

पहला सोमवार – 10 जुलाई
दूसरा सोमवार – 17 जुलाई
तीसरा सोमवार – 24 जुलाई
चौथा सोमवार – 31 जुलाई
पांचवां सोमवार – 7 अगस्त
छठवां सोमवार – 14 अगस्त
सातवां सोमवार : 21 अगस्त
आठवां सोमवार : 28 अगस्त

सावन में भगवान शिव की पूजा का महत्व
सावन के महीने में भगवान शिव की पूजा आराधना विशेष रूप से की जाती है. ऐसी मान्यता है कि इस महीने जो शिव भक्त सच्चे मन से भगवान शिव की पूजा आराधना करता है. उसकी हर मनोकामना अवश्य पूर्ण होती है.

भगवान शिव पूजा विधि
यदि आप के आस पास भगवान शिव को कोई मंदिर को तो सावन महीने में प्रतिदिन वहां स्नान करने के बाद जल अर्पित करें. ऐसा संभव नहीं है तो आप घर पर भी शिवलिंग स्थापित कर भगवान शिव की पूजा कर सकते हैं. भगवान शिव के शिवलिंग पर जलाभिषेक करने से पहले आचमन करें और फिर शुद्ध जल या गंगाजल से भगवान शिव का जलाभिषेक करें. इसके बाद शिवलिंग पर चंदन का लेप लगाएं. शिवलिंग पर बेलपत्र, धतूरा, चंदन अर्पित करें. इसके बाद नियमित पंच्चाक्षर मंत्र ‘नमः शिवाय’ का जाप करें. ऐसी मान्यता है कि इस विधि से पूरे सावन महीने में जो शिव भक्त भगवान शिव की पूजा आराधना करते हैं, उन पर भगवान भोलेनाथ की विशेष कृपा होती है और उनकी हर मनोकामना पूर्ण होती है.

Latest News

स्वास्थ्य क्षेत्र में बेहतर योगदान के लिए Felix Hospital को मिला सम्मान

Felix Hospital: नई दिल्ली के कनॉट प्लेस स्थित इम्पीरियल होटल में शनिवार को बीडब्ल्यू हेल्थकेयर एक्सीलेंस अवार्ड्स का आयोजन...

More Articles Like This