Jeeva Murder: मैग्नम अल्फा रिवॉल्वर से यूपी में पहला Murder, नहीं रहती बचने की गुंजाइश

Must Read

Jeeva Murder: गैंगस्टर संजीव माहेश्वरी उर्फ जीवा के शरीर में जिस रिवाल्वर से गोली उतारकर मौत की नींद सुलाई गई थी, वह चेकोस्लोवाकिया की मैग्नम अल्फा .357 बोर की रिवॉल्वर थी. इस रिवाल्वर का यूपी में किसी वारदात में पहली बार इस्तेमाल किया गया. हत्या की वारदातों में प्रदेश में लगातार विदेशी असलहों का इस्तेमाल बढ़ता जा रहा है.

इससे पहले अतीक और उसके भाई अशरफ, मेराज, मुकीम काला और अजीत सिंह हत्याकांड में जिगाना व गिरसान पिस्टल का इस्तेमाल किया गया था. इन विदेशी हथियारों की सप्लाई कुख्यात गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई गैंग से जुड़े तस्कर कर रहे हैं. ऐसे में आशंका है कि इसी गिरोह से जुड़े तस्करों के जरिये शूटर विजय यादव को रिवॉल्वर मुहैया कराई गई होगी.

प्रयागराज में माफिया अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की हत्या में तुर्की की जिगाना व गिरसान पिस्टल का इस्तेमाल हुआ था. चित्रकूट जेल में मेराज व मुकीम काला को भी जिगाना पिस्टल से मौत की नींद सुलाया गया था.

अजीत सिंह हत्याकांड में भी जिगाना का ही इस्तेमाल हुआ था. वहीं अब सात जून को लखनऊ के एससी-एसटी कोर्ट में गैंगस्टर संजीव माहेश्वरी उर्फ जीवा हत्याकांड को चेकोस्लोवाकिया की मैग्नम अल्फा-357 बोर की रिवॉल्वर से अंजाम दिया गया.

लॉरेंस गैंग से जुड़े तस्कर प्रदेश में कर रहे विदेशी असलहों की सप्लाई
सूत्रों की माने तो, लॉरेंस विश्नोई गैंग बड़े पैमाने पर इस तरह के विदेशी हथियारों की सप्लाई करता है. सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में भी विदेशी हथियारों का प्रयोग किया गया था. एक टीवी इंटरव्यू में लॉरेंस ने कुबूला था कि यूपी के उसके गिरोह के लोगों ने इन हथियारों को मुहैया कराया था. इससे इस आशंका को बल मिलता है कि कहीं विजय को ऐसे ही तस्करों ने तो असलहा मुहैया नहीं कराया था.

…ताकि काम तमाम हो जाए
जिन वारदातों में जिगाना, गिरसान पिस्टल और अब मैग्नम अल्फा .357 बोर की रिवाल्वर का इस्तेमाल हुआ है, उसमें शूटर ने सभी टारगेट को मार गिराया. पलक झपकते ही इन विदेशी हथियारों से ताबड़तोड़ फायरिंग होती है. इनका इस्तेमाल इसीलिए किया जा रहा है, जिससे किसी भी तरह की चूक की गुंजाइश न रहे और अगले का काम तमाम हो जाए.

मालूम हो कि बीते 7 जून की दोपहर बाद पुलिस हिरासत में लखनऊ के एससीएसटी कोर्ट रूम में बाद मुख्तार अंसारी के बेहद करीबी कुख्यात अपराधी संजीव महेश्वरी उर्फ जीवा (50) की ताबड़तोड़ गोलियां मारकर हत्या कर दी गई थी. वकील के लिबास में आए हमलावर ने कोर्ट रूम में ही रिवॉल्वर से ताबड़तोड़ छह राउंड फायरिंग की थी.

इस गोलीबारी में दो पुलिसकर्मियों, एक डेढ़ साल की बच्ची और उसकी मां को भी गोली लगी थी. जीवा पर हमलावर ने पीछे से फायरिंग की थी. वारदात के बाद वकीलों ने दौड़कर हमलावर को दबोच लिया और पिटाई करने के बाद पुलिस को सौंप दिया था.

Latest News

डिटेंशन सेंटर में ISIS ने जेल गार्ड्स को बनाया बंधक, तो रूसी सेना ने लिया बड़ा एक्शन

Russia News: रूस में दक्षिणी क्षेत्र के रोस्तोव शहर से एक मामला सामने आया, यहां डिटेंशन सेंटर में इस्लामिक...

More Articles Like This