Ayodhya: पूजा-पाठ के बीच हुआ श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के स्थाई कार्यालय का शुभारंभ

Must Read

Ayodhya: सोमवार को विधिवत पूजा-पाठ के बीच श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के स्थाई कार्यालय का शुभारंभ हुआ। इस कार्यक्रम में ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय के साथ ही ट्रस्टी अनिल मिश्रा, ट्रस्टी विमलेंद्र मोहन प्रताप मिश्र और ट्रस्टी दिनेंद्र दास सहित अयोध्या के वरिष्ठ संत मौजूद रहे। श्रीराम मंदिर से चंद कदम की दूरी पर कार्यालय को स्थापित किया गया है। ताकि किसी को किसी भी तरह की कोई समस्या न हो।

श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के नए कार्यालय का यजमान के रूप में पूजा-पाठ ट्रस्ट के ट्रस्टी डॉ अनिल मिश्रा ने किया। इस मौके पर अनिल मिश्रा ने कहा कि यह तीन मंजिलें की इमारत बनाई गई है। साथ में बेसमेंट भी बनाया गया है। यहां अतिथियों के रुकने की भी व्यवस्था की गई है। इसके साथ ही जो ट्रस्ट के काम में पूरा समय इंजीनियर दे रहे हैं, उनके और उनके परिवार के यहां रुकने की भी व्यवस्था की गई है। उनके रहने के लिए एक मंजिला इमारत भी बनाया गया है और 900 वर्ग में तीन सभागार है। उन्होंने बताया कि मीटिंग के साथ ही कार्यालय का उपयोग अन्य कार्यों के लिए भी किया जाएगा। यहां सभी के लिए भोजन करने की भी व्यवस्था रहेगी। अनिल मिश्रा ने बताया कि जो कमरे बनाए गए हैं, वह आवासीय हैं। राम मंदिर के सबसे निकट यह कार्यालय बनाया गया है। इसमें ट्रस्ट के सभी कार्य किए जाएंगे। जो अतिथि यहां आएंगे, उनके यहीं पर रुकने की भी व्यवस्था की गई है।

सहायता केंद्र उपलब्ध कराई जाएंगी सुविधाएं

अनिल मिश्रा ने आगे बताया कि, इसी कार्यालय के पास सुग्रीव किला बनाया गया है, जहां पर एक सहायता केंद्र बनाया गया है। वहां भी तमाम प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। जो राम भक्त राम लला की आरती में भाग लेना चाहते हैं, वह सुग्रीव किला सहायता केंद्र पर आकर अपना रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे। आरती में भाग भी ले सकते हैं।

ट्र्स्टी ने बताया कि, दिसंबर के पहले निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा और जनवरी में भगवान रामलला को दिव्य भव्य मंदिर में विराजमान किया जाएगा। भगवान रामलला के मंदिर में रामलला की जो प्रतिमा लगाई जाएगी, उसी प्रतिमा को बनाने के लिए अंतिम रूप देने के लिए मूर्तिकार जल्द अयोध्या आने वाले हैं।

दो हाल व 35 कमरे के साथ ही पार्किंग की भी है व्यवस्था

मालूम हो कि इस कार्यालय में तमाम प्रकार की सुविधाएं होंगी। यह कार्यालय राम मंदिर से चंद मीटर की दूरी पर बनाया गया है। इस कार्यालय में 35 कमरे, 2 हॉल बनाए गए हैं। इसके साथ ही पार्किंग की भी व्यवस्था की गई है। साथ ही राम मंदिर निर्माण कार्य में लगी कार्यदाई संस्था के इंजीनियरों व अधिकारियों के लिए रुकने की व्यवस्था की गई है। अब इसी कार्यालय में राम मंदिर निर्माण कार्य की बैठक भी की जाएगी। पहले जो बैठकें सर्किट हाउस यह फिर राम जन्मभूमि परिसर में की जाती थी, वह अब यहां कार्यालय में की जाएगी।

कार्यालय में ठहरेंगे अतिथि

अयोध्या आने वाले अतिथियों को अब किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होगी। क्योंकि इस हाल में 35 कमरे बनाए गए हैं, जिनमें से कई कमरों को अतिथियों के लिए आरक्षित किया गया है।

Latest News

स्वास्थ्य क्षेत्र में बेहतर योगदान के लिए Felix Hospital को मिला सम्मान

Felix Hospital: नई दिल्ली के कनॉट प्लेस स्थित इम्पीरियल होटल में शनिवार को बीडब्ल्यू हेल्थकेयर एक्सीलेंस अवार्ड्स का आयोजन...

More Articles Like This