Chhattisgarh: छत्तीसगढ़-तेलंगाना बॉर्डर पर दस नक्सली गिरफ्तार, ट्रैक्टर में भरा मिला विस्फोटक

Must Read

बीजापुर। जवानों के हाथ बड़ी सफलता लगी है। छत्तीसगढ़-तेलंगाना बॉर्डर पर जवानों ने 10 नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से ट्रैक्टर भरकर विस्फोटक बरामद हुआ है। बताया जा रहा है कि इतनी भारी मात्रा में विस्फोटक माओवादी लीडरों के पास ले जाया जा रहा था। यह बात भी सामने आई है कि इस विस्फोटक का इस्तेमाल छत्तीसगढ़ या फिर तेलंगाना में हमले के लिए होना था। यह इस वर्ष के सबसे बड़े नक्सली हमले की तैयारी थी। पकड़े गए नक्सलियों में पांच बीजापुर के रहने वाले हैं। बॉर्डर इलाके में यह कार्रवाई तेलंगाना के भद्रादी कोत्तागुड़म पुलिस ने की है।

सर्चिंग अभियान चलाकर पकड़ा

तेलंगाना पुलिस की तरफ से बताया गया है कि, सूचना मिली थी कि नक्सली संगठन के सदस्य भारी मात्रा में विस्फोटक लेकर मुलाकानापल्ली और दुमुगुडेम मंडल के एक ठिकाने पर मौजूद हैं। इसके आधार पर भद्रादी कोत्तागुड़म पुलिस ने दुमुगुडेम पुलिस और CRPF की 141वीं बटालियन के जवानों की एक टीम बनाई गई। इसके बाद जवानों ने इलाके के गांवों और उससे लगे जंगल में सर्चिंग अभियान चलाया। इस अभियान में गांव के ही नजदीक 10 संदिग्धों को पकड़ लिया गया। उनकी निशानदेही पर भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद किया गया है।

बरामद हुआ 500 डेटोनेटर और 90 बंडल कार्डेक्स वायर

पुलिस ने बताया कि बरामद सामान में एक ट्रैक्टर, एक बोलेरो वाहन सहित दो बाइक शामिल है। इन वाहनों की तलाशी लेने पर एक ट्रैक्टर भरकर विस्फोटक मिला है। इसमें करीब 90 बंडल कार्डेक्स वायर, 500 डेटोनेटर सहित अन्य विस्फोटक सामान बरामद हुआ। जिसके बाद सभी को गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ में पता चला की इनमें से पांच आरोपी नक्सली तेलंगाना और पांच छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले के पामेड़ इलाके के रहने वाले हैं। सभी आरोपी पिछले कई वर्षों से माओवादी संगठन के लिए काम कर रहे थे।

बड़े माओवादी लीडरों ने मंगवाया था बारूद

गिरफ्तार नक्सलियों ने पुलिस को बताया कि ये सारा बारूद बड़े माओवादी लीडरों ने मंगवाया था। उन्हीं के पास लेकर जा रहे थे। इसका उपयोग किसी हमले के लिए किया जाना था। भद्रादी कोत्तागुड़म पुलिस ने बताया कि, इन सभी से पूछताछ में कई खुलासे हुए हैं। इनके पास से बरामद किए गए बारूद की कीमत लाखों में है। हालांकि, माओवादी ये विस्फोटक सामान कहां से लेकर आ रहे थे, पुलिस ने इसका खुलासा नहीं किया है। असफरों ने कहा कि, जल्द ही माओवादियों के इस सप्लाई चेन को भी तोड़ा जाएगा।

ये नक्सली हुए गिरफ्तार

सममैया (36) निवासी- वारंगल, अरेपल्ली श्रीकांत (23) निवासी- वारंगल, मेकाला राजू (36) निवासी- वारंगल, रमेश कुमार (28) निवासी- वारंगल, सल्लापल्ली (25) निवासी- वारंगल, मुचाकी रमेश (32) निवासी- बीजापुर, सुरेश (25) निवासी- बीजापुर, बाडसे लालू (22) निवासी- बीजापुर, सोडी महेश (20) निवासी- बीजापुर, मडवी चेतु (21) निवासी- बीजापुर।

Latest News

वेद, पुराण, महाभारत देंगे भारतीय सेना को नई ताकत, इंडियन आर्मी ने शुरू किया प्रोजेक्ट उद्भव

Indian Army: भारतीय सेना में हाल ही के दिनों में काफी बदलाव देखने को मिले है. ऐसे में ही...

More Articles Like This