Mann Ki Baat: ‘मन की बात’ कार्यक्रम में बोले पीएम मोदी- ‘2025 तक टीबी मुक्त बनेगा भारत’

Must Read

Mann Ki Baat: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज (18 जून) को अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के जरिए देशवासियों के साथ अपने विचारों को साझा किया. मन की बात की 102वीं कड़ी में पीएम मोदी ने कहा कि बड़े से बड़ा लक्ष्य हो या कठिन से कठिन चुनौती, भारत के लोगों की सामूहिक शक्ति से हर चुनौती का हल निकल जाता है. उन्‍होंने कहा, अभी हमने दो तीन दिन पहले देखा कि देश के पश्चिमी छोर पर चक्रवाती तूफान आया. इस दौरान तेज हवाएं और बारिश हुईं.

साइक्लोन बिपरजॉय ने कच्छ में भारी नुकसान किया. लेकिन, कच्छ के लोगों ने हिम्मत और तैयारी से इतने खतरनाक तूफान का जिस तरह मुकाबला किया, वह अभूतपूर्व है. पीएम मोदी ने कहा, दो दशक पहले विनाशकारी भूकंप के बाद कहा जाता था कि कच्छ कभी उठ नहीं पाएगा. लेकिन, आज वही जिला देश के तेजी से विकसित होते जिलों में से एक है. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, मुझे विश्वास है कि साइक्लोन बिपरजॉय ने जो तबाही मचाई है, उससे भी कच्छ के लोग बहुत जल्द उभर जाएंगे. पीएम मोदी ने आगे कहा कि बीते वर्षों में भारत ने आपदा प्रबंधन की जो ताकत विकसित की है, वह आज एक उदाहरण बन रही है.

प्राकृतिक आपदाओं से मुकाबला करने का एक बड़ा तरीका है प्रकृति का संरक्षण. मानसून के समय में तो जिम्मेदारी और भी बढ़ जाती है. कैच द रेन जैसे अभियानों के जरिए इस दिशा में सामूहिक प्रयास किया जा रहा है. उन्‍होंने लोगों से जल संरक्षण करने की भी अपील की और यूपी के बांदा जिले के तुलसीराम यादव का उदाहरण दिया. पीएम ने बताया कि तुलसीराम जी गांव के लोगों को साथ लेकर इलाके में 40 से ज्यादा तालाब बनवा चुके हैं. पीएम मोदी ने हापुड़ जिले में एक विलुप्त नदी को पुनर्जीवित करने की भी बात बताई और बताया कि काफी समय पहले नीम नाम की एक नदी हुआ करती थी, जो समय के साथ लुप्त हो गई.

लेकिन, लोगों ने इसे फिर से जीवित करने की ठानी और सामूहिक प्रयास से नीम नदी फिर से जीवंत होने लगी है. नदी के उद्गम स्थल अमृत सरोवर को भी विकसित किया जा रहा है.  उन्‍होंने ने कहा, नदी, नहर और सरोवर सिर्फ जल स्त्रोत नहीं हैं. बल्कि, इनमें जीवन के रंग और भावनाएं जुड़ी हुई हैं. महाराष्ट्र में सालों के इंतजार के बाद निलवांडे बांध का काम पूरा हो रहा है. कुछ दिन पहले जब कैनाल में टेस्टिंग के लिए पानी छोड़ा गया, तो कई भावुक कर देने वाली तस्वीरें सामने आईं. पीएम ने मन की बात कार्यक्रम में छत्रपति शिवाजी महाराज की वीरता के साथ ही उनकी प्रशासनिक क्षमता की भी तारीफ की.

खासकर जल प्रबंधन और नौसेना को लेकर शिवाजी महाराज ने ऐतिहासिक काम किए, उनके बनाए जलदुर्ग आज भी समंदर के बीच शान से खड़े हैं. शिवाजी महाराज के राज्याभिषेक को 350 वर्ष पूरे हुए हैं, जिसे एक बड़े पर्व के रूप में मनाया जा रहा है. पीएम मोदी ने 2025 तक टीबी मुक्त भारत बनाने के संकल्प का जिक्र किया और बताया कि 10 लाख टीबी मरीजों को गोद लिया जा चुका है. इसके बाद पीएम ने जापान की तकनीक मियावाकी के बारे में बताया, जिसकी मदद से उपजाऊ मिट्टी ना होने के बावजूद इलाके को हरा-भरा बनाया जा सकता है.

Latest News

PM मोदी के दौरे से पहले CM योगी ने काशी में तैयारियों का लिया जायजा

Varanasi News: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दौरे पर शुक्रवार शाम वाराणसी पहुंचे। सीएम योगी ने यहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र...

More Articles Like This