International Yoga Day: आदि योगी के आंगन श्रीकाशी विश्वनाथ धाम से दुनिया को दिया गया योग से निरोग रहने का संदेश

Must Read

Varanasi News: आदि योगी के आंगन श्रीकाशी विश्वनाथ धाम (Shrikashi Vishwanath Dham) से दुनिया को योग से निरोग रहने का संदेश दिया गया. 9वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) पर वाराणसी में 6 लाख 70 हज़ार लोगो ने योगाभ्यास किया. इस दौरान काशी के घाट योग दिवस के साक्षी बने. योग दिवस पर वाराणसी में शहर से गाँव तक, स्कूल और मदरसों में योगाभ्यास किया गया. वाराणसी में योग दिवस का मुख्य कार्यक्रम श्री काशी विश्वनाथ धाम में आयोजित किया गया. यहां करीब 1164 लोगों ने योग किया, जिसमें योगी सरकार में आयुष विभाग के राज्यमंत्री दयाशंकर मिश्र दयालु सहित वाराणसी केक मंडलायुक्त और अन्य प्रशासनिक अफसर व बाबा के भक्तगण शामिल हुए. सरकार के हर घर आंगन योग थीम पर 15 जून से 21 जून तक योग सप्ताह मनाया गया. कार्यक्रम का उद्घाटन यूपी के आयुष एवं खाद्य सुरक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर मिश्र ‘दयालु’ ने दीप प्रज्वलित कर किया.

ये भी पढ़े:- Bihar Police में Constable के 21 हजार से ज्यादा पदों पर बंपर भर्ती, जल्दी करें आवेदन

नव्य-भव्य और दिव्य श्रीकाशी विश्वनाथ धाम का प्रांगण नौवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) का साक्षी बना. कभी सकरी गलियों से गुजर कर चंद लोग बाबा के दरबार तक पहुंच पाते थे, जहा खड़े हो पाना भी मुश्किल होता था आज वहां 1164 से अधिक लोग योग करके दिव्य विश्वनाथ धाम के विस्तारीकरण की गवाही दे रहे थे. सुबह 6 बजे विश्वनाथ धाम में योग दिवस कॉमन योग प्रोटोकॉल के साथ हुआ. यही नहीं काशी के अर्धचन्द्राकार घाटों का नज़ारा भी योगासन करता दिखा. इसके अलावा स्कूल, मदरसा, पार्क, स्वास्थ्य केंद्र, बीएचयू का तरणताल सहित वाराणसी में स्वस्थ तन व मन रखने के लिए लोग जागरूक दिखे और योग करते हुए इसे जीवन शैली में बनाए रखने का संकल्प लिया. यूपी के आयुष एवं खाद्य सुरक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर मिश्र ‘दयालु’ ने कार्यक्रम के दौरान अपने उद्बोधन के बाद प्रधानमंत्री के सन्देश को पढ़ा. उन्होंने कहा कि योग से विश्व का कल्याण हो रहा है.

ये भी पढ़े:- मोटापे से परेशान लोग Coffee के साथ ऐसे करें Chia Seeds का इस्तेमाल, चंद दिनों में दिखने लगेगा फर्क

हमारे योग और आयुर्वेद जैसे धरोहर विश्व कल्याण का मार्ग प्रशस्त कर रहे हैं. योगाभ्यास हमें मानसिक और शारीरिक रूप से अत्यंत शक्तिशाली बनाते हुए आधुनिक जीवन के कठिन से कठिन चुनौतियों का सामना प्रभावी ढंग से करने के लिए तैयार करता है. योग एक ऐसी प्रवृत्ति है, जिसका इतिहास हजारों वर्ष पुराना है, यह हमारे आत्मिक शांति के सर्वोत्तम साधनों में से एक है. गंगा किनारे कुल 30 घाटों पर योग कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें कुल 8321 व्यक्तियों द्वारा योग किया गया. जनपद की समस्त कुल 694 ग्राम पंचायतों में उपयुक्त स्थानों पर योग कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें कुल 48580 व्यक्तियों द्वारा प्रतिभाग किया गया.

ये भी पढ़े:- Tesla In India: PM Modi से मुलाकात के बाद Elon Musk का ऐलान, भारत में जल्द होगी Tesla की एंट्री

सभी 8 विकासखंड परिसर में आयोजित योग कार्यक्रम में कुल 3430 व्यक्तियों द्वारा प्रतिभाग किया गया. इसी प्रकार तीनों तहसील मुख्यालयों में कुल 1560 व्यक्तियों द्वारा योग कार्यक्रम में प्रतिभाग किया गया. यही नहीं नगर निगम के कुल 100 वार्ड स्थित उपयुक्त स्थानों पर कुल 14500 व्यक्तियों द्वारा योग कार्यक्रम में प्रतिभाग किया गया. बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित जनपद के कुल 1600 प्राथमिक विद्यालयों में 1,90,000 छात्रों द्वारा योग कार्यक्रम में प्रतिभाग किया गया. माध्यमिक शिक्षा एवं सीबीएसई बोर्ड के कुल 598 विद्यालयों में योग कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें 1,00,464 छात्रों द्वारा योग कार्यक्रम में प्रतिभाग किया गया.

ये भी पढ़े:- 100MP कैमरा और 4500mAh की बैटरी के साथ Honor का नया स्‍मार्टफोन हुआ लॉन्च, जानें कीमत

Latest News

डॉ. राजेश्वर सिंह ने NCERT की पुस्‍तकों में हुए संशोधन की सराहना, कहा- ये परिवर्तन छात्रों को सूचना के दृष्टिकोण से बनाएंगे सशक्त

Dr Rajeshwar Singh: डॉ. राजेश्वर सिंह ने राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद द्वारा 12वीं कक्षा तक की पुस्तकों में किए गए...

More Articles Like This