Train Accident: सीबीआई करेगी पड़ताल, कौन है ‘इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग सिस्टम’ के साथ छेड़छाड़ का जिम्मेदार

Must Read

Train Accident: रेलवे बोर्ड ओडिशा की रेल हादसा को लेकर पूरी तरह से गंभीर हो गया। यह रेल दुर्घटना थी, या फिर साजिश, इसका पता लगाने के लिए अब रेलवे बोर्ड ने सीबीआई जांच की सिफारिश की है। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने भी कहा है कि सीबीआई पता लगाएगी कि यह दुर्घटना कैसे हुई। जबकि रेलवे की प्रारंभिक जांच में ‘इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग सिस्टम’ और पॉइंट के साथ छेड़छाड़ किए जाने की बात सामने आई, जो ट्रेनों की सुरक्षित आवाजाही सुनिश्चित करते हैं। हालांकि, यह कोई तकनीकी गलती नहीं, बल्कि कुछ और हो सकता है। इन्हीं सभी बातों का पता लगाने के लिए सीबीआई को लगाया गया है।

ट्रेन हादसे के पीछे क्या है कोई साजिश?
इस मामले में रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने खुलकर नहीं बताया, लेकिन उनके बयान से साफ है कि कोरोमंडल ट्रेन हादसे में आपराधिक साजिश भी हो सकती है। हालांकि, उन्होंने कहा कि यह एक अलग मुद्दा है। यह किसने किया और ओडिशा ट्रेन दुर्घटना कैसे हुई? यह उचित जांच के बाद पता चल सकेगा। मतलब ओडिशा ट्रेन हादसे की साजिश के पीछे किसका हाथ है और यह कैसे हुआ, इसका पता अब सीबीआई लगाने जा रही है।

रेलवे सूत्रों की माने तो कई अहम जानकारियां सीबीआई जांच के बाद ही सामने आ सकेंगी। क्योंकि पॉइंट मशीन और इंटरलॉकिंग सिस्टम ‘एरर प्रूफ’ और ‘फेल सेफ’ है। हालांकि, उन्होंने इसमें बाहरी गड़बड़ी की बात से इनकार भी नहीं किया है। इसे फेल सेफ सिस्टम इसलिए कहा जाता है, क्योंकि अगर ये फेल भी हो जाता है, तो सभी सिग्नल रेड हो जाएंगे और ट्रेन रुक जाएंगी। अगर पॉइंट मशीन की सेटिंग बदली गई थी, ये कैसे और क्यों की गई थी, इसका खुलासा जांच रिपोर्ट में होगा। जैसा कि रेल मंत्री भी सिग्नल सिस्टम में गड़बड़ी की बात कह चुके हैं, इसलिए अब कई प्रश्न उठ रहे हैं।

नाम न छापने की शर्त पर एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इलेक्ट्रिक पॉइंट मशीन रेलवे सिग्नलिंग के लिए सबसे अहम डिवाइस है और ट्रेनों के सुरक्षित संचालन में अहम भूमिका निभाता है। अगर इस मशीन में गड़बड़ी आती है, तो इससे ट्रेनों के संचालन पर असर पड़ सकता है और कई बार असुरक्षित स्थिति भी हो सकती है। यह भी हो सकता है कि किसी ने सिस्टम से किसी तरह की छेड़छाड़ या तोड़फोड़ की हो। हम किसी बात से इनकार नहीं कर रहे हैं। अब यह सब जांच के बाद ही साफ हो सकेगा।

इससे पहले पूर्व रेल मंत्री और पश्चिम बंगाल भाजपा के वरिष्ठ नेता दिनेश त्रिवेदी ने बालासोर रेल हादसे को बड़ी साजिश का नतीजा बताते हुए कहा कि रेलवे सीबीआई जांच की मांग कर चुकी हैं। उनका कहना है कि सीबीआई जांच के बाद ही इस साजिश का पर्दाफाश हो सकेगा।

Latest News

स्वास्थ्य क्षेत्र में बेहतर योगदान के लिए Felix Hospital को मिला सम्मान

Felix Hospital: नई दिल्ली के कनॉट प्लेस स्थित इम्पीरियल होटल में शनिवार को बीडब्ल्यू हेल्थकेयर एक्सीलेंस अवार्ड्स का आयोजन...

More Articles Like This