Sawan 2023: सावन में बाबा विश्वनाथ का दर्शन करना पड़ेगा महंगा, जानिए क्या है नई गाइडलाइन

Must Read

Sawan 2023: काशी विश्वनाथ धाम जीर्णोद्धार के बाद वहां श्रद्धालुओं की संख्या में काफी इजाफी हुआ है. ऐसे में इस बार सावन में 10 लाख से ज्यादा भक्तों के आने का अनुमान है. इसको देखते हुए मंदिर प्रशासन के साथ जिला प्रशासन नें भी कमर कस ली है. यही कारण है कि सावन के आने से पहले है विशेष तैयारियां की जा रही हैं. दरअसल, 12 ज्योतिर्लिंग में से वाराणसी में स्थित काशी विश्वनाथ ज्योतिर्लिंग का महत्व विशेष है. विश्वनाथ धाम में सावन में हजारों भक्त रुद्राभिषेक भी करते हैं. लेकिन विश्वनाथ धाम के प्रशासन के एक फैसले से इस बार भक्तों को अपनी जेब ज्यादा ढीली करनी पड़ेगी.

यह भी पढ़ें- Opposition Meeting: बिहार में ठगों की आई बरात, युवराज बने हैं ‘सहबाला’: अश्विनी चौबे

सुगम दर्शन के लिए रेट तय

बाबा विश्वनाथ के दर्शन के लिए घंटो लाइन में खड़ा रहना पड़ता है. हालांकि इसमें भी कई लोग पैसे खर्च करके सुगम दर्शन का लाभ उठाते हैं। इसके लिए उन्हें तय रकम चुकानी पड़ती है। लेकिन इस बार ऐसे लोगों को ज्यादा रकम चुकानी पड़ेगी। इस बार सुगम दर्शन के लिए ज्यादा रकम खर्च करनी पड़ेगी.

विश्वनाथ ट्रस्ट ने इस बार सुगम दर्शन से लेकर श्रावण श्रृंगार समेत कई पूजा पाठ के क्रिया कलापों के शुल्क में बढ़ोतरी की है. एक लंबे अंतराल के बाद ये मौका आया है जब बाबा विश्वनाथ का दस स्वरूप में श्रृंगार होगा. वहीं आरती के दामों में भी बढ़ोत्तरी की गई है. इस साल सावन की शुरुआत 4 जुलाई से होने जा रही है. सावन इस बार लगभग 2 महीनों का होगा. चार जुलाई से लेकर सावन 31 अगस्त तक चलेगा.

काशी विश्वनाथ धाम द्वारा साझा की गई जानकारी के अनुसार प्रत्येक सोमवार को सुगम दर्शन के लिए 750, मंगला आरती के लिए 2 हजार, साथ ही एक शास्त्री के द्वारा रुद्राभिषेक के लिए 700 तो वहीं 05 शास्त्रियों के द्वारा रुद्राभिषेक के लिए 3 हजार रुपए की रासि देनी होगी. विश्वानाथ धाम में श्रावण सन्यासी भोग के लिए 7500 और भगवान शंकर के श्रावण श्रंगार के लिए एक भक्त को 20 हजार रुपए देने होंगे.

ये भी पढ़ेंः Pair Chune Ke Niyam: भूलकर भी ना छूएं इन लोगों का पैर, वरना हो जाएगा पाप; जानिए

Latest News

Varanasi News: श्रावण मास में काशी आने वाले भक्तों को न हो कोई परेशानी: सीएम योगी

Varanasi News: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि श्रावण मास के दौरान काशी आने वाले बाबा...

More Articles Like This