Opposition Meeting: शिमला में नहीं अब इस शहर में होगी विपक्ष की अगली संयुक्त बैठक, जानिए अचानक क्यों लिया गया फैसला

Must Read

Opposition Meeting: 23 जून को विपक्ष की एक जुटता वाली बैठक हुई थी. वहीं इस बैठक में कुल 15 दलों के नेता शामिल हुए थे. इस बैठक के बाद राउंड दो विपक्ष की बैठक के लिए शिमला 12 जुलाई निर्धारित किया गया. लेकिन अब इस फैसले पर भी ब्रेक लग गया है. दरअसल, एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने जानकारी दी कि विपक्ष की बैठक का राउंड-2 बेंगलुरु में 13-14 जुलाई को होगा. वहीं उन्होंने केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि विपक्ष की पटना में हुई बैठक से पीएम मोदी घबरा गए हैं.

अगली बैठक शिमला में

विपक्ष की इस बैठक में राहुल गांधी, पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी, दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के साथ अन्य 15 दलों के नेता शामिल हुए थे. हालांकि विपक्ष की इस बैठक में कांग्रेस और आप के बीच में दूरियां बढ़ती देखी गई. हुआ ये कि बैठक के बाद संयुक्त प्रेस वार्ता होनी थी. इस प्रेस वार्ता में सभी दल के नेता शामिल हुए, लेकिन आप के मुखिया अरविंद केजरीवाल पहले ही निकल गए. वहीं उनके जाने के साथ ही आप के ट्वीटर हैंडल पर एक पोस्ट डाला गया जिसमे लिखा गया कि कांग्रेस का अध्यादेश के खिलाफ स्टैंड क्लियर नहीं है. वहीं आप ने स्पष्ट कहा कि दिल्ली में प्रशासनिक सेवाओं पर नियंत्रण से संबंधित केंद्र सरकार के अध्यादेश के खिलाफ उसे समर्थन देने का वादा नहीं किया तो आप गठबंधन का हिस्सा नहीं बनेगी.

आप पर कांग्रेस नाराज

सूत्रों की माने तो कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, केजरीवाल के बयान से नाराज हैं. उन्होंने कहा कि ‘आप’ के इस बयान ने विपक्ष के पक्ष में बन रही इस हवा को कमजोर कर दिया है. वहीं बैठक में कांग्रेस के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल ने कहा कि ऐसा नहीं हो सकता कि कोई कांग्रेस के सिर पर बंदूक रख दे और फिर अपनी मांगों को लेकर बातचीत करे.

वर्तमान स्थिति की बात करें तो लोकसभा में सभी दलों को मिला दिया जाए तो 543 में से 200 सीटों से भी कम पर इन दलों का कब्जा है. लेकिन इस बैठक में दावा किया गया है कि सभी दल मिलकर बीजेपी के रथ को 100 से भी कम सीटों पर रोक देंगे. बीजेपी ने विपक्ष की इस बैठक को आडंबर बताया है.

अमित शाह का बिहार दौरा

विपक्ष की बैठक के बाद आज पहली बार देश के केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह बिहार के दौरे पर हैं. उन्होंने आज बिहार के सरहसा में रैली की और लोगों को संबोधित किया. वहीं अमित शाह ने बिहार के लखीसराय स्थित अशोक धाम मंदिर में पूजा-अर्चना की. जब शाह के बिहार दौरे के बारे में सीएम नीतीश कुमार से पूछा गया तो उन्होंने कहा, यहां आने के लिए हर कोई स्वतंत्र है. बिहार आने का हक सभी को है.

Latest News

International Yoga Day: ब्रिटेन और श्रीलंका में आयोजित हुआ 10वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस समारोह, भारी संख्या में शामिल हुए लोग

International Yoga Day: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस से पहले ही दुनियाभर के देशों में योग कार्यक्रम हो रहे हैं. ऐसे...

More Articles Like This