Pension Scheme: कुंवारों के अच्छे दिन! अगर आपकी नहीं हुई है शादी, तो सरकार देगी पेंशन

Must Read

Pension For Unmarried: अगर आपकी शादी नहीं हुई है, तो ये खबर आपके लिए है. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि उनकी सरकार ऐसे लोगों को पेंशन देने पर विचार कर रही है. दरअसल, हरियाणा सरकार 45 से 60 की उम्र में अविवाहित रहने वाले लोगों के लिए पेंशन योजना लाने पर विचार कर रही है.

आपको बता दें कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने करनाल के कलाम्पुरा गांव में एक जनसभा को संबोधित करते हुए ये बातें कही. उन्होंने कहा कि उनकी सरकार एक महीने में इस स्कीम को लेकर फैसला लेगी. वहीं, इस कार्यक्रम में 60 साल के एक अविवाहित व्यक्ति की पेंशन से जुड़ी शिकायत का जवाब देते हुए सीएम खट्टर ने कहा कि उनकी सरकार एक योजना शुरू करने पर विचार कर रही है. तब उन्होंने 45-60 साल की उम्र के अविवाहित लोगों के लिए पेंशन की बात कही.

यह भी पढ़ें- Hathras Roadways Bus Viral Video: बस में युवती संग रंगरलियां मनाने वाले कंडक्टर की गई नौकरी

अविवाहित और विधुर पुरुषों के लिए पेंशन

आपको बता दें कि विधानसभा चुनाव से पहले सीएम मनोहर लाल खट्टर ने बड़ा दाव खेला है. इसी के तहत सीएम ने बुजुर्गों की पेंशन को 3 हजार रुपये तक बढ़ाने का ऐलान भी किया है. जानकारी के मुताबिक ये आगामी 6 महीने तक लागू रहेगा. सूत्रों की मानें, तो सरकार में शामिल जेजेपी सरकार पर दबाव बना रही थी कि बुजुर्ग पेंशन को बढ़ाकर 5 हजार रुपये कर दिया जाए. वहीं, सरकार की मानें, तो पेंशन 5100 नहीं हो सकती. बुजुर्गों की पेंशन तीन हजार करके सरकार ने अपना वादा पूरा किया है.

यह भी पढ़ें- Monsoon Update: IMD की चेतावनी, देश के इन राज्यों में भारी बारिश का रेड अलर्ट

जानिए किसको मिलेगी पेंशन

गौरतलब है कि हरियाणा की मनोहर लाल खट्टर सरकार 45-60 साल के अविवाहितों और विधुर लोगों को पेंशन देने के बारे में सोच रही है. ऐसा इसलिए क्योंकि पूरे देश में पति के मरने के बाद विधवा महिला को पेंशन दी जाती है, ताकि वह आर्थिक तौर पर कमजोर न पड़ें, लेकिन हरियाणा सरकार ऐसे पुरुषों को पेंशन देने सकती है.

सीएम खट्टर ने किया ये ऐलान

दरअसल, करनाल में आयोजित कार्यक्रम में सीएम खट्टर ने कलाम्पुरा गांव स्थित संस्कृति मॉडल स्कूल के निर्माण का भी ऐलान किया है. इस दौरान सीएम अधिकारियों को 2 महीने में सरकारी स्कूल की नई बिल्डिंग और कछवा से कलाम्पुरा तक नई सड़क बनाने के निर्देश भी दिया. साथ ही सीएम ने सरकारी स्कूल में वॉलीबॉल मैदान बनवाने की घोषणा भी की.

Latest News

डॉ. राजेश्वर सिंह ने NCERT की पुस्‍तकों में हुए संशोधन की सराहना, कहा- ये परिवर्तन छात्रों को सूचना के दृष्टिकोण से बनाएंगे सशक्त

Dr Rajeshwar Singh: डॉ. राजेश्वर सिंह ने राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद द्वारा 12वीं कक्षा तक की पुस्तकों में किए गए...

More Articles Like This