WWDC 2023: iOS 17 में आए नए बदलाव, हुई फीचर्स की भरमार

Must Read

Apple WWDC 2023: Apple ने नए ऑपरेटिंग सिस्टम iOS 17 को लॉन्च कर दिया है. बता दें कि कंपनी ने यह लॉन्चिग अपने WWDC 2023 इवेंट में किया है. बीते काफी दिनों से iOS 17 को लेकर लीक्स रिपोर्ट सामने आ रही थीं, जिसे पर अब पूर्ण विराम लग चुका है. Apple ने iOS 17 को लेकर जाानकारी दी है कि इस अपडेट के बाद फोन और मैसेज में कई बदलाव देखने को मिलेंगे.

iOS 17 के साथ नया जर्नल एप भी लॉन्च किया गया है. iOS 17 के साथ एक नया स्टैंडबाय मोड भी दिया गया है, जो कि iPhone को एक अलार्म क्लॉक में बदल देता है. Apple ने iOS 17 के साथ iPadOS 17, macOS 14, watchOS 10 और tvOS 17 को भी लॉन्च किया है. चलिए जानते है इसके टॉप-5 फीचर्स के बारे में….

Journal app

वैसे तो यह Apple का पुराना एप है, लेकिन अब इसे नए अवतार में पेश किया गया है. यह एप मशीन लर्निंग का इस्तेमाल करते हुए पर्सनलाइज्ड सजेशन देता है. यह एप फोटो, जगह, वर्कआउट को एनालाइज करते हुए यूजर्स को सजेशन देता है. देखा जाए तो यह Apple हेल्थ एप का ही एक लाइट वर्जन है. यह एप भी यूजर्स की एक्टिविटी को ट्रैक करता है और उसे सुझाव देता है.

पासवर्ड शेयरिंग

आईओएस 17 के साथ आप अपने कुछ भरोसेमंद लोगों को पासवर्ड शेयर कर सकते हैं.

Standby मोड

नए OS के साथ नया StandBy मोड भी दिया गया है, जो कि फुल स्क्रीन में तमाम तरह की जानकारी देगा. इसे खासतौर पर ऐसे समय के लिए डिजाइन किया गया है, जब आप दूर बैठे हों और फोन चार्ज हो रहा हो. इसमें लाइव एक्टिविटी, सिरी, इनकमिंग कॉल जैसी जानकारी मिलेंगी.

अपडेट हुआ AirTag

अब एक ही एयरटैग से पांच लोग अपनी डिवाइस को फाइंड माय एप के जरिए ट्रैक कर सकेंगे. अब आप अगर चाहे तो एयरटैग का ग्रुप भी बना सकते हैं, जिसके बाद ग्रुप के सभी मेंबर किसी डिवाइस की लोकेशन देख सकेंगे, अलर्ट अलार्म बजा सकते हैं और लोकेशन देख सकते हैं.

NameDrop
iOS 17 का सबसे खास फीचर NameDrop है. NameDrop AirDrop के साथ काम करता है. इस फीचर की मदद से आप किसी भी कॉन्टेक्ट को किसी के साथ आसानी से शेयर कर सकेंगे. दो आईफोन या दो एपल वॉच को पास में लाकर अब कॉन्टेक्ट शेयर किए जा सकेंगे.

पहले से बेहतर हुआ ऑटोकरेक्ट
एपल ने बताया है, iOS 17 के साथ ऑटोकरेक्ट को पहले के मुकाबले बेहतर बनाया गया है. अब स्पेस बार का इस्तेमाल करना, टेक्स्ट टाइप करना और सेंटेंस बनाना पहले के मुकाबले फास्ट और आसान होगा. नए OS के साथ की-बोर्ड की नई डिजाइन भी देखने को मिलेगी.

Latest News

डॉ. राजेश्वर सिंह ने NCERT की पुस्‍तकों में हुए संशोधन की सराहना, कहा- ये परिवर्तन छात्रों को सूचना के दृष्टिकोण से बनाएंगे सशक्त

Dr Rajeshwar Singh: डॉ. राजेश्वर सिंह ने राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद द्वारा 12वीं कक्षा तक की पुस्तकों में किए गए...

More Articles Like This