पाकिस्तानी मूल के सादिक खान को लंदन मेयर चुनाव में मिली बड़ी जीत, तीसरी बार बने मेयर

Abhinav Tripathi
Abhinav Tripathi
Sub Editor, The Printlines (Part of Bharat Express News Network)
Must Read
Abhinav Tripathi
Abhinav Tripathi
Sub Editor, The Printlines (Part of Bharat Express News Network)

London Mayor Election: ब्रिटेन में साल के अंत में होने वाले आम चुनाव से पहले प्रधानमंत्री ऋषि सुनक की कंजर्वेटिव पार्टी को बड़ा झटका लगा है. दरअसल, ब्रिटेन की लेबर पार्टी ने लंदन के साथ मिडिल इंगलैंड मेयर चुनाव में शानदार जीत हासिल की है. ये लगातार तीसरी बार है जब लंदन के मेयर के रूप में सादिक खान ने रिकॉर्ड जीत हासिल की है. उनकी पार्टी (लेबर पार्टी) ने गाजा-इजरायल हमले में इजरायल की निंदा कभी नहीं की बावजूद इसके ब्रिटेन में उनको मुस्लिमों का साथ मिला. सादिक खान पाकिस्तानी मूल से आते हैं.

इस चुनाव में उनको लगभग 43.8 प्रतिशत वोट मिला. यानी उन्होंने इस मेयर के चुनाव में 10 लाख 88 हजार 225 वोट हासिल किए. वहीं, उनके प्रतिद्वंदी कंजर्वेटिव पार्टी के उम्मीदवार सुसान हॉल थे, जिनको 8 लाख 11 हजार 518 वोट मिले. मेयर पद के लिए 13 उम्मीदवारों में से एक निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ रहे दिल्ली में जन्मे कारोबारी तरुण गुलाटी बहुत पीछे रहे गए.

लंदन के मेयर चुनाव में सादिक खान की जीत से पहले ही उनकी पार्टी के नेता सर कीर स्टार्मर ने कहा था कि सादिक खान सही उम्मीदवार थे. सर कीर स्टार्मर ने कहा था कि सादिक खान ने अपने दोनों कार्यकाल में जनता की सेवा की है और मुझे विश्वास है कि एक बार फिर से जनता उनको मौका देने जा रही है.

सादिक खान ने लोगों का आभार व्यक्त किया

चुनाव में मिली शानदार जीत के बाद सादिक खान की प्रतिक्रिया सामने आई है. उन्होंने इस जीत के लिए लोगों का आभार जताया और कहा कि मैं इस वक्त काफी विनम्र हूं और आपसे वादा करता हूं कि हम लंदन को बेहतर, सुरक्षित हरियाली वाला शहर बनाने का हर संभव प्रयास करेंगे.

जानिए कौन हैं सादिक खान?

दरअसल, सादिक खान पाकिस्तानी मूल के ब्रिटिश हैं. वह साल 2016 से ही लंदन के मेयर पद पर बने हुए हैं. सादिक खान की जीत पर लंदन में जश्न का माहौल है. ब्रिटेन की राजधानी में मुस्लिम आबादी ने गाजा-इजरायल पर उसके रुख को दरकिनार करते हुए भारी संख्या में वोट दिया है.

यह भी पढ़ें: ब्राजील में भारी बारिश और भूस्खलन से हालात खराब, अब तक 33 की मौत; कई लापता

Latest News

इस दिन खुलेगा Beacon Trusteeship का आईपीओ, प्राइस बैंड तय

Beacon Trusteeship IPO: आईपीओ में पैसा लगाने वालों के लिए जल्‍द ही अच्‍छा मौका मिलने वाला है. 28 मई...

More Articles Like This