‘हीरा ठाकुर’ का भविष्य Jyoti Mourya नहीं करेंगी तय, वे अपने अलोक से समाज में हमेशा फैलाते रहेंगे ज्योति

Must Read

Jyoti Mourya: फिल्मी दुनिया और असल जिंदगी में बहुत फर्क होता है. जरूरी नहीं कि जो काम असल जिंदगी में किया जा रहा हो उसका अंजाम फिल्म की हैप्पी एंडिंग जैसा ही हो. ये बात लोगों को और अच्छे से तब समझ में आई जब उन्होंने ज्योति मौर्या (Jyoti Mourya) और अलोक मौर्या (Alok Maurya) का केस सुना…इस केस के सामने आने के बाद ट्विटर पर हीरा ठाकुर ट्रेंड हो रहा है. ऐसा क्यों हो रहा है आइए जानते है….

आपको बता दें कि हीरा ठाकुर, जो कि फिल्‍म सूर्यवंशम का एक कैरेक्टर हैं, जिसको फिल्म में अनपढ़ दिखाया गया है. लेकिन, उसकी शादी एक पढ़ी-लिखी लड़की से होती है और उसका सपना आईएएस (IAS) बनने का होता है. अपनी पत्‍नी को हीरा ठाकुर (Hira Thakur) पढ़ाता है और उसे आईएएस (IAS) भी बनवा देता है. बाद में वही पत्नी जब आईएएस (IAS) बनती है, तो अपनी सफलता का सारा श्रेय अपने पति हीरा ठाकुर को देती है और IAS की कुर्सी पर बैठकर भी ससुर के पाँव छूकर उनका सम्मान करती है.

मूवी में हीरा ठाकुर का कैरेक्टर ऐसा गढ़ा गया है कि यदि कोई पुरुष उसे देख ले, तो वो कभी अपनी पत्नी को पढ़ने से न रोके और उसे खुद के पैरों पर खड़ा करवाए. शायद ऐसा ही सोचा होगा अलोक मौर्या ने. अलोक मौर्या (Alok Maurya) एक सफाईकर्मी हैं, जिनकी शादी सल 2010 में ज्योति मौर्या (Jyoti Mourya) से हुई थी. अलोक को जब मालूम चला कि उनकी पत्नी के सपने ऊँचे हैं, तो वो अपना सब कुछ छोड़कर उसे इलाहाबाद (Allahabad) लेकर आ गए.

यहाँ आलोक ने उसे पैसे उधार ले लेकर पढ़ाया. जब ज्योति मौर्या ने साल 2016 में पीसीएस की परीक्षा पास की, तो उनकी भी खुशी का ठिकाना नहीं था…अब यहाँ तक की कहानी, तो अलोक और हीरा ठाकुर की एक जैसी रही. लेकिन इसके बाद जो हुआ वो फिल्म की कहानी से बिलकुल अलग है. बता दें कि ज्योति मौर्या जिन्हें अलोक मौर्या ने पैसे उधार लेकर पढ़ाया-लिखाया, वो पद पर आसित होने के बाद बदल गईं. वर्ष 2020 में उनका प्रेमी कोई और बन गया और वो खुद अलोक को गालियाँ देने लगीं.

बात जब ज्यादा बढ़ी, तो ज्योति ने अलोक पर दहेज उत्पीड़न का केस करवा दिया. अलोक दर-दर भटके. रोते हुए उनकी वीडियो सामने आई, लेकिन ज्योति के सिर का अहंकार नहीं उतरा. सोशल मीडिया पर जब अलोक मौर्या के साथ हुई नाइंसाफी की कहानी वायरल हुई, तो लोग उनकी आवाज बने और उन्हें इंसाफ दिलाने की माँग शुरू हो गई. अब ये मामला प्रशासन के भी संज्ञान में है, जो ज्योति मौर्या कल तक अपनी कुर्सी का रौब दिखाकर अलोक को धमकियाँ दे रही थीं, अब उनकी पुरानी वीडियोज सोशल मीडिया पर घूम रही हैं.

किसी में वह अलोक की जाति पर उन्हें अपशब्द बोल रही हैं, तो किसी में उनकी चैट वायरल है. सोशल मीडिया पर लोगों का पूछना है कि आखिर जो इंसान इतना एहसान फरामोश है कि अपने घर-परिवार को भूल जाए, वो क्या गारंटी है कि सरकारी कुर्सी पाने के बाद जनता के हित में काम करेगा? इतना ही नहीं कुछ लोगों ने तो इस केस के बाद महिलाओं का मजाक बना दिया है. पुरुषों पर तंज कसते हुए कहा जा रहा है कि वह लोग हीरा ठाकुर बनकर बीवियों को न पढ़ाएँ, वरना अलोक जैसा हाल हो सकता है.

कुछ लोग इस मुद्दे पर मीम बना रहे हैं कि बेटी पढ़ाओ मगर बीवी नहीं. इसी तरह स्क्रीनशॉट वायरल है कि जब लड़की अपने प्रेमी को बताती है कि उसका सपना एसडीएम बनने का है, तो लड़का उसे ब्लॉक मारकर दूर भाग जाता है. अलोक भले आज पीड़ा में हैं. भले ही उनकी पीड़ा पर मीम बन रहे हैं. पर सच्चाई यही है कि समाज के ऐसे ही अलोक पर्दे के हीरा ठाकुर जैसी भूमिकाओं की प्रेरणा होते हैं.

असल जिंदगी के हीरा ठाकुर का भविष्य कोई ज्योति तय नहीं करेगी. हीरा ठाकुर जैसे न केवल अपना भविष्य खुद लिखते हैं, बल्कि अपने साथ वालों का भविष्य भी बुनते हैं. वे आगे भी समाज में शिक्षा, नारी सशक्तिकरण की ज्योति फैलाते रहेंगे.

Latest News

Lok Sabha Election: दिल्ली में बीजेपी करेगी MP की 29 सीटों पर मंथन, इन दिग्गजों को मिल सकता है टिकट

Lok Sabha Election 2024: लोकसभा चुनाव को लेकर बीजेपी एक्टिव मूड में है. बताया जा रहा है कि बीजेपी...

More Articles Like This