Odisha में टाटा स्टील प्लांट स्टीम लाइन में विस्फोट, 19 श्रमिक घायल

Must Read

ओडियाः ओडिया से एक दुर्घटना की खबर सामने आई है. यहां ढेंकनाल जिले के मेरामंडली स्थित टाटा स्टील प्लांट में मंगलवार की दोपहर करीब एक बजे बड़ा हादसा हो गया। टाटा प्लांट स्टीम लाइन में विस्फोट हो गया. इस हादसे में 19 श्रमिक घायल हो गए, जिनमें से 2 की हालत नाजुक बताई जा रही है. इस घटना के बाद इलाके में चीख-पुकार मच गई, वहीं गंभीर रूप से घायल सभी श्रमिकों को कटक के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार, ओडापड़ा ब्लॉक के नरेंद्रपुर में टाटा स्टील मेरामंडली कंपनी में स्टीम लाइन विस्फोट में 19 श्रमिक गंभीर रूप से घायल हुए हैं. दोपहर करीब एक बजे मजदूर बीएफ पावर प्लांट-2 के समीपवर्ती स्टीम लाइन के पास काम कर रहे थे, तभी अचानक विस्फोट हो गया.

हालत बिगड़ने पर श्रमिकों को भेजा कटक

श्रमिकों को गंभीर हालत में पहले टाटा स्टील प्राथमिक चिकित्सा अस्पताल ले जाया गया. वहां प्राथमिक उपचार किया गया. बाद में उनकी हालत बिगड़ने पर उन्हें कटक रेफर कर दिया गया.

कंपनी की तरफ परिजनों को आश्वासन
कंपनी द्वारा जारी किए गए एक बयान में कहा गया है कि इस दुर्घटना को गंभीरता से लिया गया है. आपातकालीन उपाय किए गए हैं. हादसे का शिकार हुए मजदूरों के परिजनों से संपर्क किया गया है. पीड़ित परिवार को कंपनी की तरफ से सहारा दिया जाएगा. हम मामले की जांच कर रहे हैं.

हम सुरक्षा को महत्व दे रहे हैं. हादसे के बाद जिला प्रशासन मौके पर पहुंच गया. ढेंकनाल जिले के पुलिस अधीक्षक के मुताबिक, एक व्यक्ति की हालत नाजुक बताई जा रही है, लेकिन अन्य की स्थिति सामान्य है.

टाटा स्टील ने जारी की प्रेस विज्ञप्ति
इस दुर्घटना पर टाटा स्टील, ढेंकानाल ने एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से बताया है कि बीएफपीपी 2 बिजली संयंत्र में दुर्घटना की सूचना देते हुए हमें दुख हो रहा है.

निरीक्षण कार्य के दौरान आज दोपहर एक बजे दुर्घटना हुई और साइट पर काम करने वाले कुछ लोग प्रभावित हुए, जिन्हें तुरंत संयंत्र परिसर के अंदर व्यावसायिक स्वास्थ्य केंद्र और फिर ऐहतियात के तौर पर, कंपनी की एम्बुलेंस में, डॉक्टर और पैरामेडिक्स के साथ आगे के उपचार के लिए कटक में स्थानांतरित कर दिया गया.

दुर्घटना के तुरंत बाद, सभी आपातकालीन प्रोटोकॉल सेवाओं को सक्रिय कर दिया गया और क्षेत्र को बंद कर दिया गया. कंपनी प्रभावित कर्मियों के परिवारों को सभी आवश्यक जानकारी और सहायता सुनिश्चित कर रही है.

हम जमीनी स्तर पर संबंधित अधिकारियों के साथ मिलकर काम कर रहे हैं और दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के लिए आंतरिक जांच शुरू कर दी है. सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है और हम इस घटना से सीखने के लिए प्रतिबद्ध हैं. अधिक विवरण उपलब्ध होने पर हम अपडेट साझा करेंगे.

होगी जांच
ढेंकानाल के एसपी ज्ञानरंजन महापात्र ने कहा कि गर्म पानी ले जाने वाला वाल्व खुल गया और इस घटना में करीब 19 लोग घायल हो गए हैं। महापात्र के अनुसार, जिला प्रशासन की एक टीम भी जांच के लिए घटनास्थल का दौरा करेगी। इस दुर्घटना में दो लोगों की स्थिति गंभीर बताई जा रही है।

Latest News

इंद्रियों के द्वारा मनमाना सुख भोगना है सुरुचि का मतलब: दिव्य मोरारी बापू

Puskar/Rajasthan: परम पूज्य संत श्री दिव्य मोरारी बापू ने कहा, निराधार के बानो सहायक, सदाचार के बानो विधायक। उत्तानपाद के...

More Articles Like This