Gyanvapi Case: ज्ञानवापी फैसले से मुस्लिम पक्ष नाराज, तहखाने में पूजा की अनुमति देने के बाद रिटायर हुए जज

Shubham Tiwari
Shubham Tiwari
Sub Editor The Printlines (Part of Bharat Express News Network)
Must Read
Shubham Tiwari
Shubham Tiwari
Sub Editor The Printlines (Part of Bharat Express News Network)

Gyanvapi Case: बीते बुधवार को ज्ञानवापी परिसर में स्थित व्यास जी के तहखाने में हिंदुओं को पूजा-पाठ करने की अनुमति मिल गई है. इस फैसले से मुस्लिम पक्ष में नाराजगी देखी गई. उसने इस आदेश को अदालत में चुनौती देने का फैसला किया है. वहीं. इस फैसले को सुनाने के बाद वाराणसी जिला जज अजय कृष्ण विश्वेश रिटायर हो गए.

रिटायरमेंट के दिन लिया अहम फैसला

बता दें कि जिला जज डॉ. अजय कृष्ण विश्वेश ने अपने रिटायरमेंट के दिन अहम फैसला दिया. उन्‍होंने ज्ञानवापी के व्यासजी तहखाने में पूजा-पाठ के अधिकार को लेकर सुनवाई की. इस दौरान उन्होंने हिंदू पक्ष में फैसला सुनाया और उन्हें तहखाने में पूजा का अधिकार दे दिया. ये फैसला सुनाने के बाद अजय कृष्ण विश्वेश रिटायर हो गए. ज्ञात हो कि इस पर जिला जज डॉ. अजय कृष्ण विश्वेश की कोर्ट में 30 जनवरी को दोनों पक्षों की बहस पूरी हुई थी.

जानिए किसे मिला पूजा का अधिकार

गौरतलब है कि जिला जज के तौर पर डॉ. अजय कृष्ण विश्वेश की वाराणसी में तैनाती 21 अगस्त 2021 को हुई थी. अपनी न्यायिक सेवा के आखिरी दिन अजय कुमार विश्वेश ज्ञानवापी पर फैसला देकर इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गए. बताते चले कि अजय कुमार विश्वेश ने ही एएसआई (ASI) सर्वे का आदेश दिया था. अब ज्ञानवापी परिसर में मौजूद व्यास जी के तहखाने में पूजा पाठ का भी आदेश दिया है. तहखाने में पूजा पाठ करने का अधिकार व्यास जी के नाती शैलेन्द्र पाठक को दे दिया है.

ये भी पढ़ें-

Union Budget 2024: आशा, आंगनवाड़ी वर्कर्स और मिडिल क्लास को मिला बड़ा तोहफा, जानिए वित्त मंत्री के बड़े ऐलान

Latest News

Taapsee Pannu Wedding: विदेशी बॉयफ्रेंड की दुल्हनिया बनेंगी तापसी पन्नू! जानिए एक्ट्रेस की वेडिंग डेस्टिनेशन

Taapsee Pannu Wedding: इन दिनों बॉलीवुड में खूब शहनाइयां बज रही हैं. हाल ही में एक्ट्रेस रकुल प्रीत और...

More Articles Like This