Train Accident: 51 घंटे बाद ट्रैक फिर चालू, वैष्णव ने हाथ जोड़ रवाना की ट्रेन, कहा- ‘हमारी जिम्मेदारी अभी बाकी’

Must Read

Train Accident: बीते शुक्रवार को देर शाम ओडिशा के बालासोर में हुए ट्रेन हादसे के बाद से ही केंद्र सरकार लगातार इस घटना पर नजर बनाए हुए है। केंद्रीय मंत्रियों से लगायत अफसर भी लगातार मृतकों-घायलों की संख्या से लेकर घटनास्थल पर चौकसी बढ़ाए हुए हैं। इसी का परिणाम रहा कि बालासोर में जिस जगह हादसा हुआ, वहां रविवार की देर रात ट्रैक की मरम्मत कर लाइन को फिर चालू करा दिया गया। जबकि पहले इस मेन लाइन के शुरू होने में बुधवार तक का समय लगने की बात कही गई थी। इस मौके पर खुद रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव घटनास्थल पर मौजूद रहे। जिस वक्त पहली ट्रेन ट्रैक से गुजरी, उस वक्त वैष्णव ने उसके सामने हाथ जोड़ लिए।

मालूम हो कि रेल मंत्री वैष्णव ट्रेन हादसे के 12 घंटे बाद ही बालासोर में घटना स्थल पर पहुंच गए थे। इसके बाद से ही वैष्णव ओडिशा में जुटे हैं। यहां उन्होंने रेलवे ट्रैक की मरम्मत से लेकर अस्पताल में घायलों तक से मुलाकात की है और संबंधितों को घटना की जांच संबंधी आदेश भी दिए हैं। रविवार की देर रात ट्रैक के चालू हो जाने के बाद पत्रकारों से बातचीत में वैष्णव ने कहा कि हमारी जिम्मेदारी अभी खत्म नहीं हुई है। हमारा लक्ष्य है कि हम गुमशुदा लोगों के परिवार वालों को जल्द से जल्द ढूंढ सकें।

रेल मंत्री ने ट्रैक चालू होने के बाद यहां से गुजरने वाली मालगाड़ी को हरी झंडी भी दिखाई और इसकी सुरक्षित यात्रा के लिए प्रार्थना भी की। उन्होंने बताया कि ट्रैक की मरम्मत का कार्य प्रधानमंत्री मोदी के आदेश के बाद ही शुरू हो गया था। प्रधानमंत्री ने इसे जल्द से जल्द पूरा करने की सलाह दी थी। इसकी मरम्मत के लिए लगी टीम ने मेहनत और समझदारी से काम किया और घटना के 51 घंटे बाद ही अप और डाउन दोनों लाइनों को चालू कर लिया गया।

रात 10.40 पर रवाना हुई ट्रेन, रेल मंत्री ने दिखाई हरी झंडी

ओडिशा के बालासोर में दुर्घटना प्रभावित खंड से भीषण दुर्घटना के 51 घंटे बाद रविवार की रात करीब 10 बजकर 40 मिनट पर पहली ट्रेन रवाना हुई। यह जानकारी अधिकारियों ने दी। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने मालगाड़ी को रवाना किया और इस दौरान कई मीडियाकर्मी तथा रेलवे अधिकारी भी वहां मौजूद रहे। मालगाड़ी विशाखपत्तनम बंदरगाह से राउरकेला इस्पात संयंत्र जा रही थी और उसी पटरी पर चल रही है, जिस पर शुक्रवार को ट्रेन दुर्घटना हुई थी।

अश्विनी वैष्णव ने इसे लेकर खुद ट्वीट कर बताया, “क्षतिग्रस्त डाउन लाइन पूरी तरह ठीक हो गई है। खंड से पहली ट्रेन रवाना हुई।” बालासोर में बाहानगा बाजार रेलवे स्टेशन के पास शुक्रवार की शाम करीब सात बजे कोरोमंडल एक्सप्रेस मुख्य लाइन के बजाय लूप लाइन में प्रवेश करने के बाद वहां खड़ी एक मालगाड़ी से टकरा गई थी। इस दुर्घटना की जद में बेंगलुरु-हावड़ा सुपरफास्ट एक्सप्रेस भी आ गई थी। इस हादसे में कम से कम 275 लोगों की मौत हुई है।

Latest News

NSD के भारत रंग महोत्सव की 25वीं वर्षगांठ के समापन समारोह में भारत एक्सप्रेस न्यूज नेटवर्क के CMD उपेंद्र राय को किया गया सम्मानित

संस्कृति मंत्रालय और एनएसडी ने देश भर में 1 फरवरी से दुनिया के सबसे बड़े अंतराष्ट्रीय थियेटर फेस्टिवल भारत...

More Articles Like This