Automotive Designer: अगर करियर में कुछ करना चाहते हैं Creative, कार डिजाइनर बनकर मिलेगी मोटी सैलरी

Must Read

Automotive Designer Career Option: आज के युवाओं को करियर के चुनाव के लिए कई विकल्प हैं. वहीं, कुछ युवा ऐसे भी हैं, जो भेड़ चाल चलना पसंद नहीं करते. ऐसे में वो कुछ अलग करना चाहते हैं. अगर आप भी ऐसा सोच रहे हैं, तो ऑटोमोटिव डिजाइनर बनकर अपना शानदार करियर बना सकते हैं. इस खबर में हम आपको यही बताने जा रहे हैं कि आप ऑटोमोटिव डिजाइनर कैसे बन सकते हैं. साथ ही इसका काम क्या हैं. ये भी बताएंगे की इसका स्कोप कितना है. आइए जानते हैं…

जानिए क्या होनी चाहिए योग्यता
आपको बता दें कि ऑटोमोटिव डिजाइनर या कार डिजाइनर बनने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है आप क्रिएटिविटी हों. इसके अलावा ऑटोमोटिव के टेक्नीकल स्किल्स और मार्केट की थोड़ी नॉलेज भी होनी चाहिए. इंटर तक की योग्यता होनी चाहिए. अगर आप ऐसे हैं या कुछ नया करना चाहते हैं, तो ये फील्ड आपका इंतजार कर रहा है. यहां आप यूनिक ऑटोमोबाइल डिजाइनर बनकर मोटा पैसा कमा सकते हैं.

ऑटोमोटिव डिजाइनर या कार डिजाइनर का काम
ऑटोमोटिव डिजाइनर बनकर आप शानदार व्हिकल डिजाइन कर सकते हैं, जो सेफ और अट्रैक्टिव होने के साथ ही अफोर्डेबल हो और कंज्यूमर की सभी जरूरतें पूरा करता हो. आपको बता दें कि ऑटोमोबाइल डिजाइन, इंजीनियरिंग, मार्केट ट्रेंड के लिहाज से भी परफेक्ट हो, इसका भी बाकायदा ध्यान देना होता है. बता दें कि ये डिजाइनर स्केच, डिजिटल रेंडरिंग और थ्री डी मॉडल बनाते हैं. वहीं, डिजाइनिंग के लिए इंजीनियर, टेक्निकल स्टाफ और पूरी टीम काम करती है.

मोटी कमाई का है ये फील्ड
आपको बता दें कि ये फील्ड मोटी कमाई का है. इस फील्ड में करियर शुरू करने से पहले संबंधित कंपनी में इंटर्नशिप करके काम से जुड़ी पूरी जानकारी हासिल करें. सब कुछ ठीक रहा तो उसी कंपनी में आपकी अच्छे पैकेज पर जॉब लग जाएगी. इसके अलावा आपके पास दूसरी कंपनी में जॉब के लिए अप्लाई करने के ऑप्शन भी खुले रहेंगे. दरअसल, इस फील्ड में शानदार कमाई करने के लिए एक्सपीरियंस बहुत जरूरी है. आप एक्सपीरियंस, एजुकेशन और इनोवेशन के साथ शुरुआत में सालाना 5 से 6 लाख और ज्यादा एक्सपीरियंस होने पर बाद में मोटी सैलरी कमा सकते हैं.

जानिए क्या है एजुकेशनल क्वालिफिकेशन
अगर आप ऑटोमोबाइल डिजाइनिंग में दिलचस्पी रखते हैं, तो आपको इसका कोर्स करना होगा. इसके अलावा आप कॉर के अलग-अलग मॉडल और फीचर्स के बारे में खूब पढ़ें. इसके साथ ही आप अपनी डिजाइन और ड्रॉइंग को भी अच्छा करें. अगर हम पढ़ाई की बात करें, तो इंडिस्ट्रियल डिजाइन, ट्रांसपोर्टेशन डिजाइन, ऑटोमोटिव या ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग में बैचलर्स की डिग्री ले सकते हैं.

Latest News

दिल्ली पहुंची बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना, इन मुद्दो पर होगी द्विपक्षीय वार्ता

Sheikh Hasina reached Delhi: बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना दो हफ्ते के अंदर दूसरी बार भारत दौरे पर आई...

More Articles Like This