Opposition Meeting पर पूर्व डिप्टी CM ने सुनाई कहानी, कहा-चूहा, सांप, मोर, नेवला और ये बिल्ली एक पेड़ पर हैं, लेकिन लड़ नहीं रहे

Must Read

Opposition Meeting on Dinesh Sharma: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की पहल पर आज पटना में विपक्षी दलों की बैठक खत्म हो गई. दूसरी तरफ बीजेपी भी नौ साल सेवा सुशासन और गरीब कल्याण जनसभा करके जनता तक अपनी बात पहुंचा रही है. वहीं, प्रधानमंत्री मोदी की 2024 के चुनाव में जीत सुनिश्चित करने के लिए पूर्व डिप्टी डॉ सीएम दिनेश शर्मा और जल संसाधन विभाग के मंत्री स्वतंत्र देव सिंह आज कौशाम्बी पहुंचे.

यह भी पढ़ें- Opposition Meeting: बिहार में ठगों की आई बरात, युवराज बने हैं ‘सहबाला’: अश्विनी चौबे

भ्रष्टाचार कराओ समिति की हो रही बैठक: दिनेश शर्मा
इस दौरान उन्होंने विपक्षी पार्टियों के पटना में हो रहे सम्मेलन को लेकर निशाना साधा. डॉ दिनेश शर्मा ने जनता को सम्बोधित करते हुए कहा कि जहां एक तरफ दुनिया भर में मोदी-मोदी का नारे लग रहे हैं, वहीं बिहार में आज मोदी को हटाने के लिए भ्रष्टाचार कराओ समिति की बैठक हो रही है. इस दौरान उन्होंने सांप चूहा और बिल्ली की भी कहानी सुनाई.

जानिए क्यों विपक्षी पार्टियों के गठबंधन है लठबंधन
दरअसल, ओसा स्थित कृषि मंडी में भाजपा द्वारा नौ साल सेवा सुशासन और गरीब कल्याण जनसभा का आयोजन किया गया था. इस कार्यक्रम में पूर्व उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा और जल संसाधन विभाग के मंत्री स्वतंत्र देव सिंह बतौर मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए. इस दौरान पूर्व डिप्टी सीएम ने लोगो को सम्बोधित करते हुए कहा कि एक ओर जहां अमेरिका की संसद में अमेरिका का सांसद खड़े होकर मोदी-मोदी कर रहे है और बिहार में भ्रष्टाचार कराओ समिति की बैठक चल रही है.

ये भ्रष्ट तंत्र को मजबूत करो की बैठक हो रही है. चाचा नीतीश जी ये भतीजा तेजश्वी जी याद रखना बुआ और भतीजा थे, बंगाल में भी बुआ और भतीजा हैं. ये बुआ और भतीजा ये चाचा और भतीजा मिलके ये मोदी और योगी का कोई बाल भी बाका नहीं कर सकता. आपने देखा है ये विपक्ष का गठबंधन नहीं, लठबंधन की तैयारी है. ये लालू के लट्ठ नीतीश पर, नीतीश का लट्ठ ममता पर और जब ममता का लट्ठ राहुल पर पड़ने वाला है.

बाढ़ के कारण संकट में सबके प्राण
इस दौरान पूर्व डिप्टी सीएम ने जनता को एक कहानी भी सुनाई. उन्होंने कहा कि एक चूहा था और उसी पेड़ के पर एक बिल्ली बैठी हुई थी. उन्हें देखकर मैंने कहा प्रकृति का क्या नियम है. बिल्ली चूहे की खा जाए, नाग देवता चूहे को खा जाएगा और मोर नाग को. विपक्षियों पर तंज करते हुए उन्होंने कहा कि एक पेड़ पर चार दुश्मन एक साथ बैठे हैं. ये सांप ये नेवला ये चूहा ये बिल्ली ये मोर सब एक पेड़ में एक साथ बैठे हुए हैं, लेकिन लड़ नहीं रहे है. एक बुजुर्ग मिले मुझे. उन्होंने कहा शर्मा जी आप नहीं जानते नदी में बाढ़ आई है. बाढ़ के कारण सबके प्राण संकट में है.

पूर्व डिप्टी सीएम ने कहा कि ये पेड़ के नीचे उतरेंगे, तो इनके प्राण संकट में है. इसलिए यह इंतजार कर रहे हैं कि जब बाढ़ समाप्त हो जाएगी, तो सब नीचे उतरेंगे. सब लड़ेंगे सब मरेंगे. अपने अस्तित्व को समाप्त कर लेंगे. सपा, बसपा, माकपा यह कौन हैं, सब प्रतीक्षा कर रहे हैं. आज बिहार में सब मिलकर एक साथ बैठे हैं. आपको लग रहा है कि इन सब में एकता है, नहीं मेरे भाई यह सब मोदी बाढ़ जाने का इंतजार कर रहे हैं. यह मोदी बाढ़ जाने के इंतजार में बैठे हैं. ये कह रहे हैं मोदी हटाओ.

पूर्व डिप्टी सीएम ने कहा ये कहानी नहीं जीवन का यथार्थ
पूर्व डिप्टी सीएम ने पूछा, बताओ मोदी नहीं तो कौन है. तुम्हारे बीच ये राहुल, नीतीश, ममता, अखिलेश, तेजस्वी कौन आएगा. तब सब बोलेंगे हम आएंगे, फिर क्या होगा? ममता दौड़ा के मारेंगी लालू को, उनका पैर छुआ है. फिर उनका पैर उठाकर पलट देंगी. नीतीश दौड़ेंगे भतीजे की तरफ, तेजस्वी को खा जाने के लिए, पता चला अखिलेश जी दौड़ेंगे मायावती की तरफ कि हम आप के समर्थन में नहीं है. फिर सब लड़ेंगे एक दूसरे के लिए और देश को बर्बाद करने का षड्यंत्र करेंगे. मैंने कहानी नहीं सुनाई ये जीवन का यथार्थ है.

Latest News

वीकेंड ट्रैवल के लिए बेस्ट हैं ये डेस्टिनेशंस, खूबसूरत नजारों के साथ शांति और सुकून की होगी अनुभूति

Weekend Travel: वीकेंड की छुटि्टयों में कहीं घूमने जाने की सोच रहे है तो दिल्‍ली के पास या दिल्‍ली में...

More Articles Like This