Manipur violence: मणिपुर में नहीं थम रही हिंसा, उग्रवादियों ने ली महिला सहित तीन की जान

Must Read

इम्फालः मणिपुर में मेतई समुदाय और कुकी समुदाय के बीच हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है. 3 मई से दोनों समुदायों के बीच हिंसा जारी है. शुक्रवार को मणिपुर में एक और हिंसक घटना घटी।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार को मणिपुर के खोकेन गांव में संदिग्ध उग्रवादियों ने एक महिला सहित तीन लोगों की हत्या कर दी और दो अन्य लोगों को घायल कर दिया. यह गांव कांगपोकपी और पश्चिम इम्फाल जिले के बीच की सीमा पर स्थित है। मालूम हो कि संदिग्ध आतंकवादी और पीड़ित विभिन्न समुदायों से ताल्लुक रखते हैं।

गांव में शुरू कर दी गोलीबारी- पुलिस

पुलिस के मुताबिक, कथित तौर पर खाकी पोशाक पहने हुए चरमपंथी सैन्य वाहन चला रहे थे. चरमपंथियों ने शुक्रवार की सुबह खोकेन गांव में आए और स्वचालित राइफलों से ग्रामीणों पर गोलीबारी शुरू कर दी.

मालूम हो कि 10 जून तक राज्य में इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई है. इस हिंसा में अभी तक 80 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। इंटरनेट सेवाएं बहाल करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई है. हालांकि, अदालत ने इस पर तत्काल सुनवाई से इनकार कर दिया है.

विशेष जांच दल का गठन
इसी बीच अधिकारियों ने समाचार एजेंसी पीटीआइ को जानकारी दी कि केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) ने मणिपुर हिंसा के मामलों की जांच के लिए डीआईजी रैंक के अधिकारी के तहत विशेष जांच दल का गठन किया है.

Latest News

डॉ. राजेश्वर सिंह ने NCERT की पुस्‍तकों में हुए संशोधन की सराहना, कहा- ये परिवर्तन छात्रों को सूचना के दृष्टिकोण से बनाएंगे सशक्त

Dr Rajeshwar Singh: डॉ. राजेश्वर सिंह ने राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद द्वारा 12वीं कक्षा तक की पुस्तकों में किए गए...

More Articles Like This