Subsidy For Cow: दुग्ध पालकों को योगी सरकार का तोफहा, जाने गाय पालने पर मिलेगी कितनी सब्सिडी

Must Read

नई दिल्लीः प्रदेश में देशी गायों की नस्ल को बढ़ावा देने के लिए यूपी की योगी सरकार एक योजना लेकर आई है. इसके तहत गौ पालकों को सरकार की तरफ से देसी गाय खरदीन पर 40,000 रुपये तक की सब्सिडी दी जाएगी.

प्रदेश सरकार की ओर से स्वदेशी गौ संवर्धन योजना नंद बाबा दुग्ध मिशन के तहत शुरू की गई है, जिसके तहत अगर कोई गौ पालक दूसरे राज्यों, जैसे पंजाब की साहीवाल, राजस्थान से थारपारकर और गुजरात से गिर जैसी देसी गायों को यूपी में लाने पर ट्रांसपोर्टेशन, ट्रांजिट और पशु इंश्योरेंस के लिए सब्सिडी दी जाएगी.

गायों की देसी नस्ल को बढ़ावा देने के लिए योजना
इस योजना को प्रदेश में दुग्ध उत्पादन और गायों की देसी नस्ल को बढ़ावा देने के लिए लाया गया है. इसमें अधिकतम दो गायों पर ही सब्सिडी दी जाएगी. स्वदेशी गौ संवर्धन योजना के तहत किसी भी गौ पालक को दूसरे राज्यों से देसी गाय खरीदने पर आने वाले खर्च जैसे ट्रांसपोर्टेशन, ट्रांजिट इंश्योरेंस और पशु इंश्योरेंस की लागत पर 40 प्रतिशत (अधिकतम 40,000 रुपये) की सब्सिडी दी जाएगी.

यूपी सरकार की ओर से एक अन्य योजना मुख्यमंत्री प्रगतिशील पशुपालक प्रोत्साहन योजना के तहत उन्नत नस्ल की गाय पालने के लिए भी सब्सिडी दी जा रही है. अगर कोई पशुपालक साहिवाल, गिर, हरियाणा, और थारपारक जैसी नस्ल की गायों का पालन करता है तो उसे 10 से 15 हजार रुपये सब्सिडी के रूप में दिए जाएंगे.

मालूम हो कि हरियाण गाय के 6 से 10 किलो दूध देने पर 10 हजार और 10 किलो से अधिक दूध देने पर 15 हजार रुपये की सब्सिडी दी जाती है. थारपारक,साहीवाल और गिर गाय के 8 से 12 किलो दूध देने पर 10 हजार रुपये और 12 किलो से ज्यादा दूध देने पर प्रोत्साहन राशि के रूप में 15000 रुपये दिए जा रहे हैं.

Latest News

स्वास्थ्य क्षेत्र में बेहतर योगदान के लिए Felix Hospital को मिला सम्मान

Felix Hospital: नई दिल्ली के कनॉट प्लेस स्थित इम्पीरियल होटल में शनिवार को बीडब्ल्यू हेल्थकेयर एक्सीलेंस अवार्ड्स का आयोजन...

More Articles Like This