UP Police के सिपाही होटल में तोड़ते थे मुफ्त की रोटियां, जानिए कैसे SP ने सिखाया सबक

Must Read

बिजनौर: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बिजनौर (Bijnor) में पुलिस की वर्दी का रौब दिखाने का मामला सामने आया है. खास बात ये है कि ये मामला बिजनौर के एसपी तक पहुंच गया. आइए बताते हैं पूरा मामला और एसपी ने कैसे पांचों सिपाहियों को सबक सिखाया.

यह भी पढ़ें- Amarnath Yatra: यात्रा में शामिल होने वालों के लिए सरकार ने जारी की एडवाईजरी, दर्शन के लिए जान लें नियम

खाकी का रौब पुलिस को पड़ा महंगा
दरअसल, बिजनौर में खाकी वर्दी का रौब दिखाना पुलिस को ही महंगा पड़ गया. जानकारी के मुताबिक बिजनौर के पांच सिपाही रोजाना होटल से विभाग के बड़े अफसरों के नाम पर मुफ्त में खाना पैक कराकर ले जाते थे. ये काम कई दिन से चल रहा था. इसके बाद होटल स्वामी ने बिजनौर एसपी से पांच सिपाहियों के खिलाफ इस मामले की शिकायत की. मामले का संज्ञान लेकर एसपी ने सभी 5 पुलिस कर्मियों को किया लाइन हाजिर कर दिया. बता दें कि सभी पुलिसकर्मी थाना नूरपुर में तैनात थे. एसपी में विभागीय जांच के आदेश दिए हैं.

मामले में होटल मालिक ने एसपी से लगाई गुहार
आपको बता दें कि नूरपुर के एक प्रतिष्ठित मुस्लिम होटल के मालिक ने एसपी नीरज कुमार जादौन के समक्ष पेश होकर शिकायती पत्र दिया. इसमें नूरपुर में तैनात पांच पुलिसकर्मियों पर अधिकारियों के नाम पर मुफ्त में खाना पैक कराकर ले जाने का आरोप लगाया गया था. पत्र में बताया गया कि आए दिन सिपाही अधिकारियों के नाम पर खाने की पैकिंग कराकर ले जाते हैं.

जानिए आरोपी सिपाहियों के क्या हैं नाम
इस मामले को एसपी नीरज कुमार जादौन ने गंभीरता से लेते हुए अमित हून, कपिल तेवतिया, हिटलर खान, विकास बैंसला, राहुल को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर दिया है. एसपी ने सभी पुलिसकर्मियों की विभागीय जांच कराने के भी आदेश जारी किए हैं. अब देखना ये है कि इस मामले में क्या कुछ निकलकर सामने आता है.

Latest News

प्रभु विषयक भक्तिरस में होती है अनोखी मिठास: दिव्य मोरारी बापू 

Puskar/Rajasthan: परम पूज्य संत श्री दिव्य मोरारी बापू ने कहा, भागवत प्रसादी- भक्ति रस श्रीकृष्ण की कथा में सभी...

More Articles Like This