विश्व में एक ऐसा देश, जहां न के बराबर है हिंदूओं की संख्या; पॉपुलेशन जान नहीं कर पाएंगे यकीन

Abhinav Tripathi
Abhinav Tripathi
Sub Editor, The Printlines (Part of Bharat Express News Network)
Must Read
Abhinav Tripathi
Abhinav Tripathi
Sub Editor, The Printlines (Part of Bharat Express News Network)

World News: विश्व में कई देश हैं, जहां पर कई धर्मों के लोग निवास करते हैं. लगभग सभी देशों में आपको हिंदू मिल जाएंगे. ठीक इसके इतर एक ऐसा भी देश है, जहां पर हिंदूओं की संख्या ना के बराबर है. यहां पर हिंदू 1 फीसदी से भी कम हैं, लेकिन खास बात है कि यहां पर मंदिर भी है.

दरअसल, हम बात कर रहे हैं यूरोपीय महाद्वीप में स्थित स्वीडन की. स्वीडन में हिंदूओं की आबादी ना के बराबर है. इंटरनेट पर मिले आंकड़ों पर नजर डालें तो स्वीडन में महज 0.13 प्रतिशत लोग हिंदू धर्म का पालन करते है. इस यूरोपीय देश में हिंदू अल्पसंख्यक हैं. आपको बता दें कि स्वीडन की कुल आबादी 1 करोड़ 5 लाख के आस पास है. इसमें से 13 हजार लोग ही हिंदू धर्म को मानने वाले हैं. इस देश में सबसे ज्यादा लोग क्रिश्चियन धर्म को मामने वाले हैं. वहीं, इस देश में दूसरे नंबर पर सबसे ज्यादा इस्लाम को मानने वाले हैं.

स्वीडन में भारतीय मूल के कितने लोग

आपको जानना चाहिए कि स्वीडन में हिंदू धर्म का पालन करने वालों में मुख्य रूप से भारतीय मूल के लोग और अनिवासी भारतीय रहते हैं. यहां पर रहने वाले हिंदूओं में भारत के अलावा अन्य देश से आए लोग हैं. जानकारी के मुताबिक इनमें अधिकतर तमिल, पंजाबी, बंगाली, गुजराती, तेलुगु और कन्नड़ हैं. बताया जाता है कि 1950 के समय में कुछ भारतीय छात्र यहां पर पढ़ने आए थे, जो यहीं पर बस गए. वहीं, इसके अलावा 1970 के दशक में युगांडा से भारतीयों का एक और समूह यहां पर पहुंचा था. बताया जाता है कि साल 1984 के बाद स्वीडन में कुछ भारतीयों ने राजनीतिक शरण मांगी और उनको वहां की नागरिकता मिल गई.

स्वीडन में कंप्यूटर विशेषज्ञ माने जाते हैं भारतीय

कहा जाता है कि स्वीडन में रहने वाले भारतीय समुदाय के लोग सांस्कृतिक रूप से काफी सक्रीय हैं. इस देश में कई संघ हैं, जो समय समय पर कई सारे कार्यक्रमों का आयोजन कराते हैं. वहीं, ये संघ राष्ट्रीय दिवस भी मनाते हैं. तमिल हिंदू शरणार्थी और बांग्लादेश के हिंदू शरणार्थी भी स्वीडन में रहते हैं. इसके अतिरिक्त वर्ष 2008 में स्वीडन की आव्रजन नीति सुधार के बाद भारत भारी संख्या में अपने देश से श्रमिकों को स्वीडन भेजता है. भारत से ज्यादा नागरिक स्वीडन में कंप्यूटर विशेषज्ञ के तौर पर जाते हैं.

स्वीडन में हिंदूओं की संख्या कितनी है?

एक अनुमान के अनुसार वर्ष 2005 में स्वीडन में 7 हजार से 10 हजार के आस पास हिंदू जनसंख्या थी. इनमें से 2 हजार तमिल मूल के थे और 1500 बंगाली मूल के थे. भारतीय आईटी और अन्य इंजीनियरों के स्वीडन पहुंचने से देश में हिंदू धर्म बढ़ रहा है. अगर एसोसिएशन ऑफ रिलिजन डेटा आर्काइव्स पर एक नजर डालें तो साल 2020 तक स्वीडन में करीब 13,000 हिंदू थे, जो कि कुल आबादी की महज 0.13 फीसदी है.

यह भी पढ़ें: इस दिन खुलेगा Beacon Trusteeship का आईपीओ, प्राइस बैंड तय

Latest News

PM मोदी के दौरे से पहले CM योगी ने काशी में तैयारियों का लिया जायजा

Varanasi News: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दौरे पर शुक्रवार शाम वाराणसी पहुंचे। सीएम योगी ने यहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र...

More Articles Like This