टर्बुलेंस से प्रभावित यात्रियों की कब तक मदद करता रहेगा सिंगापुर एयरलाइंस, विमानन कंपनी ने क्या कहा?

Abhinav Tripathi
Abhinav Tripathi
Sub Editor, The Printlines (Part of Bharat Express News Network)
Must Read
Abhinav Tripathi
Abhinav Tripathi
Sub Editor, The Printlines (Part of Bharat Express News Network)

Singapore flight turbulence: पिछले महीने सिंगापुर एयरलाइंस के एक विमान को टर्बुलेंस का सामना करना पड़ा था. इस टर्बुलेंस के कारण एक यात्री की मौत हो गई थी और कई अन्य लोग घायल हुए थे. सिंगापुर एयरलाइंस का ये विमान लंदन से सिंगापुर जा रहा था. बीच रास्ते में इसको टर्बुलेंस का सामना करना पड़ा, जिस कारण इस विमान की इमरजेंसी लैंडिंग बैंकॉक में करानी पड़ी. अब इस टर्बुलेंस में हादसे के शिकार हुए यात्रियों को लेकर सिंगापुर एयरलाइंस ने एक बड़ा फैसला लिया है.

सिंगापुर एयरलाइंस ने विमान में सवार 211 यात्रियों को पूरा हवाई किराया वापस करने और आर्थिक मुआवजे का भुगतान करने की पेशकश की है. विगत 21 मई को लंदन से सिंगापुर जा रही उड़ान संख्या एसक्यू 321 को भीषण टर्बुलेंस का सामना करना पड़ा था.

करानी पड़ी थी आपात लैंडिंग

सिंगापुर एयरलाइंस का बोइंग 777-300 ईआर विमान 21 मई को लंदन से सिंगापुर जा रहा था. इस विमान में 211 यात्री और चालक दल के 18 सदस्य सवार थे. बीच रास्ते में टर्बुलेंस के कारण विमान को आपात स्थिति में बैंकॉक के सुवर्णभूमि हवाई अड्डे पर उतारा गया था. टर्बुलेंस के कारण विमान इतनी भयानक तरीके से लड़खड़ाया कि यात्री और चालक दल के सदस्य विमान की छत तक उछलकर नीचे गिरे थे, जिसके परिणामस्वरूप एक व्यक्ति की मौत हो गई थी और दर्जनों यात्री घायल हो गए थे.

सिंगापुर एयरलाइंस का प्रस्ताव?

इस घटना को लेकर सिंगापुर एयरलाइंस ने एक बार फिर से एक बयान जारी किया है. इस बयान में कहा गया है कि सोमवार को यात्रियों को मुआवजा देने के प्रस्ताव भेज दिए गए हैं. इस घटना में जिन लोगों को ‘मामूली चोटें’ आई हैं, उन्हें मुआवजे के तौर पर 10 हजार अमेरिकी डॉलर की पेशकश की गई है. जिन लोगों को इस घटना में ज्यादा गंभीर चोटें आईं, हमने उन्हें उनकी परिस्थिति के हिसाब से मुआवजे के प्रस्ताव पर चर्चा के लिए आमंत्रित किया है.

विमानन कंपनी की बात भी जान लीजिए

इस घटना को लेकर एक बार फिर से विमानन कंपनी का बयान सामने आया है. इस बयान में कहा गया है कि जिन यात्रियों को चिकित्सकीय रूप से गंभीर चोटें आईं हैं, जिन्हें दीर्घकालिक चिकित्सा देखभाल की आवश्यकता है और जो वित्तीय सहायता चाहते हैं, उन्हें उनकी तत्काल जरूरतों को पूरा करने के लिए 25 हजार अमेरिकी डॉलर के अग्रिम भुगतान की पेशकश की जाती है. यह यात्रियों को मिलने वाले अंतिम मुआवजे का ही हिस्सा होगा.

यह भी पढ़ें: UNSC में पास हुआ इजराइल-हमास संघर्ष विराम प्रस्ताव, जानिए कहां फंस रहा मामला

Latest News

PM मोदी के दौरे से पहले CM योगी ने काशी में तैयारियों का लिया जायजा

Varanasi News: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दौरे पर शुक्रवार शाम वाराणसी पहुंचे। सीएम योगी ने यहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र...

More Articles Like This